content-cover-image

Bijnor Courtroom Firing: 18 पुलिसकर्मी Suspend, Priyanka ने साधा निशाना

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Bijnor Courtroom Firing: 18 पुलिसकर्मी Suspend, Priyanka ने साधा निशाना

उत्तर प्रदेश के बिजनौर में मंगलवार को एक कोर्टरूम के अंदर हत्या के आरोपी की गोली मारकर हत्या किए जाने के एक दिन बाद यूपी पुलिस ने बुधवार को बताया कि उसने लापरवाही बरतने के लिए 18 पुलिस अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है. दूसरी ओर, मामले की गंभीरता को देखते हुए इलाहाबाद हाई कोर्ट ने इस मामले का स्वतः संज्ञान लिया है, और डीजीपी से 20 दिसंबर तक जवाब मांगा है. इस बीच कांग्रेस महासचिव प्रियंका ने भी इस वारदात को लेकर प्रदेश की बीजेपी सरकार पर हमला बोला है. घटना पर नाराजगी जताते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर लिखा कि - “उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार ने कानून के राज को अपराधराज में तब्दील कर दिया है. अब अपराधी सीधे कोर्ट में घुसकर गोली मार रहे हैं और जज को अपनी जान बचानी पड़ रही है. पता नहीं जो लोग उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को हर रोज “अपराधमुक्त प्रदेश” होने के तमगे देते हैं उनकी आंखों में कौन सी धूल झोंकी गई है. असलियत ये है कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था अपराधियों के हाथ में है.” इलाहाबाद हाईकोर्ट ने अदालत के अंदर हुई हत्या के इस मामले में बुधवार को स्वत: संज्ञान लिया है. अदालत डीजीपी और प्रमुख गृह सचिव से इस पर 20 दिसंबर तक जवाब मांगा है. अदालत ने राज्य सरकार से जिला अदालतों के लिए अपनी सुरक्षा योजना बनाने के लिए भी कहा है. जस्टिस सुधीर अग्रवाल और जस्टिस सुनीत कुमार की पीठ ने कहा कि सरकार को अदालत परिसर के लिए सुरक्षा योजना बनानी चाहिए. मंगलवार को बिजनौर जिले में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत के अंदर तीन लोगों द्वारा गोली चलाने पर एक अंडर ट्रायल व्यक्ति की मौत हो गई थी, जबकि एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गया था. अदालत का एक क्लर्क भी इस गोलीबारी में घायल हो गया, जबकि सीजेएम को भी खुद को बचाने के लिए भागना पड़ा.

Show more
content-cover-image
Bijnor Courtroom Firing: 18 पुलिसकर्मी Suspend, Priyanka ने साधा निशानामुख्य खबरें