content-cover-image

Google का Doodle आज देश की पहली महिला प्रिसिंपल पर, बेटियों के लिए आखिरी सांस तक लड़ीं

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Google का Doodle आज देश की पहली महिला प्रिसिंपल पर, बेटियों के लिए आखिरी सांस तक लड़ीं

देश की पहली महिला शिक्षक जिन्होंने अपना जीवन सिर्फ लड़कियों को पढ़ाने और समाज को ऊपर उठाने में लगा दिया, नाम सावित्रीबाई फुले. आज सावित्रीबाई फुले की 189वीं जयंती है, इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें श्रद्धांजलि दी. और google ने उनके लिए doodle बनाया। शिक्षा, महिला सशक्तिकरण के लिए उन्होंने जो किया उसके लिए पीएम मोदी ने उन्हें नमन किया. सावित्रीबाई फुले एक दलित परिवार में पैदा हुई थीं, लेकिन तब भी उनका लक्ष्य यही रहता था कि किसी के साथ भेदभाव ना हो और हर किसी को पढ़ने का अवसर मिले. उनके पति क्रांतिकारी और समाजसेवी थे, तो सावित्रीबाई ने भी अपना जीवन इसी में लगा दिया और दूसरों की सेवा करनी शुरू कर दी. 10 मार्च 1897 को प्लेग द्वारा ग्रसित मरीज़ों की सेवा करते वक्त सावित्रीबाई फुले का निधन हो गया. प्लेग से ग्रसित बच्चों की सेवा करते हुए उन्हें भी प्लेग हो गया था, जिसके कारण उनकी मृत्यु हुई.

Show more

content-cover-image
Google का Doodle आज देश की पहली महिला प्रिसिंपल पर, बेटियों के लिए आखिरी सांस तक लड़ींमुख्य खबरें