content-cover-image

निर्भया रेप: क्या है Death Warrant ? दोषियों के लिए जिसकी कॉपी पहुंची तिहाड़

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

निर्भया रेप: क्या है Death Warrant ? दोषियों के लिए जिसकी कॉपी पहुंची तिहाड़

निर्भया केस के चारों दोषियों की डेथ वारंट की कॉपी तिहाड़ जेल पहुंच गई है. कॉपी तिहाड़ प्रशासन ने प्राप्त कर ली है. मंगलवार को पटियाला हाउस कोर्ट ने 16 दिसंबर 2012 को दिल्ली में हुए निर्भया गैंगरेप के चारों दोषियों की फांसी की तारीख तय कर दी. दोषियों को 22 जनवरी को सुबह 7 बजे तिहाड़ जेल में फांसी दी जाएगी. खबरों के मुताबिक, निर्भया केस के दोषियों मुकेश, विनय शर्मा, अक्षय सिंह और पवन गुप्ता को जेल नंबर 3 में फांसी दी जाएगी. चारों दोषी फिलहाल तिहाड़ जेल में बंद हैं. फांसी पर लटकाने के लिए इसी फॉर्म नंबर 42 यानी डेथ वारंट का इस्तेमाल होता है. बता दें कि चार दोषियों में एक ने राष्ट्रपति से दया की मांग की थी जबकि एक अन्य दोषी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करके मौत की सजा पर पुनर्विचार करने की मांग की थी. बता दे की दोषी को 'तब तक फांसी के फंदे पर लटका कर रखा जाए, जब तक उसकी मौत न हो जाए'. यह वाक्यांश क्रिमिनल प्रोसीजर के फॉर्म नंबर 42 पर छपे तीन वाक्यों के दूसरे भाग का हिस्सा है, जिसे डेथ वारंट के नाम से जाना जाता है. दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) का फॉर्म नंबर 42 असल में, दोषी को फांसी की सजा का अनिवार्य आदेश है, जिसे मौत की सजा सुनाई गई है.

Show more
content-cover-image
निर्भया रेप: क्या है Death Warrant ? दोषियों के लिए जिसकी कॉपी पहुंची तिहाड़मुख्य खबरें