content-cover-image

'आज के शिवाजी नरेंद्र मोदी' पुस्तक पर विवाद, विपक्ष हुआ हमलावर

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

'आज के शिवाजी नरेंद्र मोदी' पुस्तक पर विवाद, विपक्ष हुआ हमलावर

बीजेपी नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री सुधीर मुंगतीवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना शिवाजी महाराज से की तो इसपर राजनीति शुरू हो चुकी है. दिल्ली में शिवाजी नरेंद्र मोदी नाम की पुस्तक के विमोचन के बाद से ही ये विवाद जारी है. सुधीर मुंगतीवार का कहना है कि इस देश में देवताओं से किसी शख्स की तुलना करने का प्रसंग पहले भी होता रहा है. 1971 में पाकिस्तान से युद्ध में मिली विजय के बाद इंदिरा गांधी को दुर्गा के समान बताया गया था. सुधीर मुंगतीवार ने एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार पर निशाना साधते हुए कहा उनके कार्यकाल में हजारों किसानों ने खुदकुशी की, उन्हें जाणता राजा (राजा जिसको सभी के दुख-दर्द के बारे में जानकारी हो) कहा जाता था जबकि जाणता राजा सिर्फ शिवाजी महाराज के लिए इस्तेमाल होता है. सुधीर मुंगतीवार का कहना है कि शिवाजी की किसी के साथ तुलना नहीं की जा सकती है. मुंबई के संतजेवियर कॉलेज के इतिहासकार डॉक्टर अवकाश जाधव ने कहा, 'छत्रपति शिवाजी महाराज के बारे में जब भी लिखा जाता है मुझे लगता है एक जिम्मेदारी पूर्वक लिखा जाना चाहिए. आप अगर किसी भी व्यक्ति की तुलना छत्रपति शिवाजी महाराज से करेंगे, जो महाराष्ट्र के देवता तुल्य हैं तो मुझे लगता है यह सही नहीं है. मुझे लगता है छत्रपति शिवाजी महाराज की तुलना किसी भी नेता से नहीं की जा सकती, क्योंकि वह अपने आप में इतने श्रेष्ठ हैं कि उनकी तुलना किसी साधारण पुरुष चाहे वह सियासत में हो, नहीं कर सकते. महाराष्ट्र के सारे लोगों को सारे जाति धर्म के लोगों को साथ लेकर वह चले थे मुझे लगता है यह किसी और की बस की बात नहीं है.'

Show more
content-cover-image
'आज के शिवाजी नरेंद्र मोदी' पुस्तक पर विवाद, विपक्ष हुआ हमलावरमुख्य खबरें