content-cover-image

कारगिल में हिमस्खलन, शहीद का पार्थिव शरीर पहुंचा घर, अंतिम विदाई देने उमड़ा जन सैलाब

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

कारगिल में हिमस्खलन, शहीद का पार्थिव शरीर पहुंचा घर, अंतिम विदाई देने उमड़ा जन सैलाब

कारगिल में गुरुवार को बर्फीले तूफान में शहीद हुए घाटमपुर के धर्मेंद्र उर्फ बब्लू का पार्थिव शरीर रविवार सुबह घर पहुंचा तो पूरा गांव रो पड़ा। शव पहुंचते ही परिजनों और ग्रामीणों में शोक की लहर दौड़ गई। शहीद के अंतिम दर्शन के लिए भारी संख्या में ग्रामीण पहुंचे। जानकारी के अनुसार पैतृक गांव बिराहिनपुर में शहीद का अंतिम संस्कार किया जाएगा। धर्मेंद्र सिंह लद्दाख के कारगिल में तैनात थे। सूत्रों के अनुसार गुरुवार सुबह 11ः30 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। धमेंद्र की सन 1999 में हवलदार पद पर नौकरी लगी थी। 2002 में हरीपुर रायबरेली निवासी सुनीता से शादी हुई थी। परिजनों के अनुसार धर्मेंद्र दशहरे में 20 दिनों के लिए घर आए थे। घरवालों के साथ ही उन्होंने दिवाली मनाई थी। गुरुवार को मशकोह वैली में सेना की एक चौकी हिमस्खलन की चपेट में आ गई। इसमें धर्मेन्द्र शहीद हो गए, जबकि अन्य कई जवान सेना के अस्पताल में भर्ती हैं। शहीद धर्मेंद्र का शव पहुंचते ही अंतिम दर्शन के लिए गांव में जन सैलाब उमड़ा।

Show more
content-cover-image
कारगिल में हिमस्खलन, शहीद का पार्थिव शरीर पहुंचा घर, अंतिम विदाई देने उमड़ा जन सैलाबमुख्य खबरें