content-cover-image

UP: Yogi Cabinet में 14 प्रस्तावों पर लगी मुहर

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

UP: Yogi Cabinet में 14 प्रस्तावों पर लगी मुहर

प्रदेश सरकार किसानों पर केंद्रित सामाजिक सुरक्षा की सबसे बड़ी योजना मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना बीमा योजना की जगह मुख्यमंत्री कृषक कल्याण योजना लागू करेगी. इसको लेकर मंगलवार को लोकभवन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में प्रस्ताव को पास कर दिया गया है. इसके अंतर्गत प्रदेश के करीब दो करोड़ 33 लाख 22 हजार किसानों व बटाईदारों के आश्रितों को दुर्घटना में मृत्यु पर पांच लाख रुपये तक की सहायता की व्यवस्था होगी. यह योजना बीती 14 सितंबर 2019 से प्रभावी होगी. प्रदेश सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने बताया कि दिव्यांग होने वाले किसान के बालिग (18 से 70 वर्ष) आश्रित को भी इसका लाभ मिलेगा. अमूमन देखा गया है कि किसान की मृत्यु के पश्चात उसके वारिस खेत का ट्रांसफर अपने नाम पर नहीं कराते हैं. ऐसी स्थिति में किसान के परिजन (पत्नी, बेटा और बेटी) इससे लाभान्वित होंगे. इसके अलावा कैबिनेट में आबकारी नीति 2020-2021 का प्रस्ताव भी पास कर दिया गया है. सरकार ने आबकारी नीति को सरल और पारदर्शी किया है. अब आबकारी विभाग में सब कुछ ई-लॉटरी और ऑनलाइन होगा. लाइसेंस का नवीनीकरण ई-लॉटरी के माध्यम से किया जाएगा. यही नहीं अब एक व्यक्ति प्रदेश भर में दो दुकानें ही रख सकेगा. आबकारी नीति में देशी शराब के लाइसेंस में 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी, विदेशी शराब के लाइसेंस में 20% की बढ़ोतरी, बियर के लाइसेंस में 15 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई है. यही नहीं ब्रांड और लेवल का नवीनीकरण भी एक चरण में किया जाएगा. इसके साथ ही सभी तरह की शराब की बोतलों पर बार कोड लगाया जाएगा, इससे ग्राहक बारकोड से शराब को चेक कर सकेगा कि शराब असली है या नकली. बियर की शॉप पर अब वाइन भी उपलब्ध होगी. दुकानदार 31 मार्च को बचे प्रोडक्ट को शेड्यूलिंग बिलिंग करा कर एक अप्रैल की सुबह भी बेच सकेगा.

Show more
content-cover-image
UP: Yogi Cabinet में 14 प्रस्तावों पर लगी मुहरमुख्य खबरें