content-cover-image

Democracy Index: नागरिक स्वतंत्रता में कमी के चलते 10 स्थान नीचे खिसका भारत

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Democracy Index: नागरिक स्वतंत्रता में कमी के चलते 10 स्थान नीचे खिसका भारत

ब्रिटेन का जाना-माना प्रकाशन समूह 'द इकोनॉमिस्ट ग्रुप' अपने रिसर्च विभाग 'द इंटेलिजेंस यूनिट' की मदद से हर वर्ष एक 'डेमोक्रेसी इंडेक्स' जारी करता है. बुधवार को इस यूनिट ने 165 देशों के बारे में अपनी ताज़ा रिपोर्ट जारी की जिसके अनुसार भारत दस स्थान नीचे खिसक गया है. भारत को 2019 के लिए सूचकांक में 51वें स्थान पर रखा गया है. इससे पहले के साल में भारत 41वें स्थान पर था. रिपोर्ट में कहा गया है कि 'डेमोक्रेसी इंडेक्स में दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र, भारत के समग्र स्कोर में बड़ी गिरावट दर्ज की गई है. शून्य से 10 के पैमाने पर भारत का स्कोर 2018 में 7.23 से गिरकर 2019 में 6.90 हो गया और इसकी प्राथमिक वजह देश में नागरिक स्वतंत्रता में कटौती करना रहा'. वर्ष 2019 के स्कोर की तुलना अगर पिछले वर्षों से करें, तो 2006 में रैंकिंग शुरू होने के बाद से यह सबसे कम स्कोर है. इस रिपोर्ट में भारत की रैंकिंग गिरने और स्कोर घटने की वजह भी बताई गई है. रिपोर्ट में कहा गया है कि 'भारत प्रशासित कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने, असम में एनआरसी पर काम शुरू होने और फिर विवादित नागरिकता क़ानून, सीएए की वजह से नागरिकों में बढ़े असंतोष के कारण भारत के स्कोर में गिरावट दर्ज की गई'.

Show more

content-cover-image
Democracy Index: नागरिक स्वतंत्रता में कमी के चलते 10 स्थान नीचे खिसका भारतमुख्य खबरें