content-cover-image

Javadekar का Owaisi को जवाब, शुरू हुई #PohaPolitics

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Javadekar का Owaisi को जवाब, शुरू हुई #PohaPolitics

नागरिकता कानून पर नागरिकता पर 'पोहा' बनाम हलवा पॉलिटिक्स जारी है. अब इस विवाद में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर भी कूद पड़े हैं. ओवैसी को करारा जवाब देते हुए जावड़ेकर ने कहा कि मैं भी पोहा खाता हूं और आपको भी खिलाऊंगा. विवाद की शुरुआत बीजेपी के सीनियर नेता कैलाश विजयवर्गीय के अजीबोगरीब बयान से हुई. कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, "बाहरी को खाना खाने के तरीके से पहचाना जा सकता है. मेरे घर में काम कर रहे मजदूरों के खाना खाने का तरीका अजीब लगा. शक जाहिर हुआ तो उनसे पूछताछ की. इसके दो दिन बाद मजदूर काम पर आए ही नहीं." विजयवर्गीय के बयान पर विवाद होना तय था. एमआईएम पार्टी के प्रमुख असुद्दीन ओवैसी ने विजयवर्गीय पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए कहा कि 'मजदूरों को पोहा नहीं सिर्फ हलवा खाना चाहिए, तभी उन्हें भारतीय, भारत का शहरी कहा जाएगा.' अब केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने ओवैसी पर पलटवार करते हुए कहा कि मैं भी पोहा खाता हूं और आपको भी खिलाऊंगा लेकिन यह कोई मुद्दा नहीं है. विजयवर्गीय ने अपने बयान में कहा था, "देश मे करीब एक करोड़ शरणार्थी हैं लेकिन घुसपैठिये भी कहां-कहां है ये आपको पता नहीं है. हमारे यहां भोजन के वक्त परंपरा है. एक थाले मे 6-7 मजदूर एक साथ पोहा खा रहे थे, बताया गया कि ये रोटी नहीं खाते. मैने पूछा कहां के हो आप लोग.. ठेकेदार के बताया कि ये बंगाल के हैं.. मैने पूछा बंगाल के कौन से जिले से हो लेकिन वो बता नहीं पाया. ठेकेदार बोला- बाहर के हैं. मैने कहा- ऐसे कैसे आपने इन्हें काम पर लगाया. ठेकेदार ने कहा कि ये बंगाल के हैं, कम पैसे में मिलते हैं." विजयवर्गीय ने इंदौर प्रेस क्लब में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा, "इंदौर में डेढ़ साल से एक बंगाल का आतंकी मेरी रैकी कर रहा है. इस कारण मुझे केंद्र ने सुरक्षा प्रदान कर रखी है. मैंने कभी इंदौर में यह सोचा ही नहीं ये क्या हो रहा है, देश में बाहर के लोग आकर आतंक फैलाएंगे."

Show more
content-cover-image
Javadekar का Owaisi को जवाब, शुरू हुई #PohaPoliticsमुख्य खबरें