content-cover-image

Budget 2020: खर्च बढ़ने से आगामी वित्त वर्ष में बना रहेगा राजकोष पर भार

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Budget 2020: खर्च बढ़ने से आगामी वित्त वर्ष में बना रहेगा राजकोष पर भार

खर्च बढ़ने से अगले वित्त वर्ष में भी राजकोष को लेकर सरकार की चिंता बनी रह सकती है. कर राजस्व की स्थिति खराब रहने के बावजूद सरकार के राजस्व और पूंजीगत खर्च में अगले वित्त वर्ष 2020-21 में चालू वित्तीय वर्ष के अनुमान 27.86 लाख करोड़ रुपये से 20 फीसदी का इजाफा होने की उम्मीद है. सूत्र बताते हैं कि ब्याज भुगतान, पेंशन और अनुदान पर चालू वित्त वर्ष में 24.47 लाख करोड़ रुपये के राजस्व खर्च के मुकाबले आगामी वित्त वर्ष 2020-21 में 15 फीसदी की वृद्धि हो सकती है, जबकि पूंजीगत खर्च चालू वित्त वर्ष के 3.38 लाख करोड़ रुपये से अगले वित्त वर्ष में 5 फीसदी ज्यादा हो सकता है. वित्त वर्ष 2019-20 में केंद्र सरकार को कुल बजटीय खर्च 27.86 लाख करोड़ रुपये था. इसमें पूंजीगत व्यय 3.38 लाख करोड़ रुपये और राजस्व खर्च 24.27 लाख करोड़ रुपये था.

Show more
content-cover-image
Budget 2020: खर्च बढ़ने से आगामी वित्त वर्ष में बना रहेगा राजकोष पर भारमुख्य खबरें