content-cover-image

Nirbhaya Case : दोषियों की फांसी टली, कोर्ट ने अगले आदेश तक लगाई रोक

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Nirbhaya Case : दोषियों की फांसी टली, कोर्ट ने अगले आदेश तक लगाई रोक

निर्भया गैंग रेप और हत्या के दोषी पवन को सुप्रीम कोर्ट से झटका लगा है. दोषी पवन गुप्ता की पुनर्विचार याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है. अपराध के समय नाबालिग होने की दलील खारिज करने के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में पवन ने पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी. पवन ने सुप्रीम कोर्ट में 20 जनवरी के उस आदेश पर पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी जिसमें अपराध के समय पवन के नाबालिग होने की याचिका को खारिज कर दिया गया था. सुप्रीम कोर्ट ने पांच घंटे में ही दोषी पवन की याचिका ख़ारिज कर दी. पवन ने शुक्रवार को सुबह 10.39 बजे सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी. इसके बाद रजिस्ट्री ने इसकी सूचना चीफ जस्टिस एसए बोबडे को दी. इसके बाद तुरंत इस याचिका को जस्टिस आर बानुमति, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एएस बोपन्ना के पास विचार के लिए सूचीबद्ध किया गया. इसके बाद पीठ ने चेंबर में विचार किया और याचिका को खारिज कर दिया. निर्भया मामले में एक और पेंच फंसता हुआ दिखाई दे रहा है. दोषी पवन गुप्ता ने अपराध के समय नाबालिग होने की दलील खारिज करने के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी. उसने डेथ वारंट को रद्द करने की भी मांग की थी. दोषी पवन गुप्ता के पास अभी दोनों विकल्प क्यूरेटिव पिटीशन और दया याचिका बचे हैं. वहीं फांसी अगले आदेश तक टलने के बाद निर्भया की मां आशा देवी ने कहा है, "दोषियों के वकील ए.पी. सिंह ने मुझे चुनौती देते हुए कहा है कि दोषियों को अनंतकाल तक फांसी नहीं दी जाएगी।" उन्होंने आगे कहा, "मैं अपनी लड़ाई जारी रखूंगी और सरकार को दोषियों को फांसी देनी ही पड़ेगी।"

Show more
content-cover-image
Nirbhaya Case : दोषियों की फांसी टली, कोर्ट ने अगले आदेश तक लगाई रोकमुख्य खबरें