content-cover-image

Rohini की रैली में Kejriwal पर गरजे Yogi, कही ये बात

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Rohini की रैली में Kejriwal पर गरजे Yogi, कही ये बात

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने करावल नगर विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी मोहन सिंह बिष्ट, मुस्तफाबाद विधानसभा से जगदीश प्रधान, आदर्श नगर विधानसभा से राजकुमार भाटिया, नरेला विधानसभा से नीलदमन खत्री और रोहिणी विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी विजेन्द्र गुप्ता के समर्थन में जनसभा कर 8 फरवरी को अपना वोट देकर भारी बहुमत से विजयी बनाने की अपील की. योगी आदित्यनाथ ने कहा कि दिल्ली का विधानसभा चुनाव ऐसे समय में हो रहा है जब सारे विश्व में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा लिए गए कड़े फैसलों की चर्चा और धमक है, 2014 में देश की जनता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को देश की सत्ता सौंपी थी. जिसके बाद उन्होंने पहले 5 साल में गरीबों के कल्याण के लिए कई दूरगामी योजनाएं बनाएं और उनको धरातल पर क्रियान्वित करवाया. उन्होंने विकास योजनाओं को लागू करते हुए भाषा, पंथ, क्षेत्र और मजहब से ऊपर उठकर विकास सबका, तुष्टीकरण किसी का नहीं के आधार पर काम किया जो शासन की आदर्श व्यवस्था का एक बड़ा उदाहरण है. योगी आदित्यनाथ ने कहा हम दिल्ली से मेरठ तक एक रैपिड रेल लाइन बिछाना चाहते थे. केंद्र और उत्तर प्रदेश ने पैसा दे दिया, हमने अनापत्ति स्वीकृति दे दी, हम दिल्ली से हरिद्वार तक 12 लेन का एक राष्ट्रीय राजमार्ग बनाना चाहते हैं जिसकी स्वीकृति और पैसा केंद्र और उत्तर प्रदेश ने दे दिया लेकिन अरविंद केजरीवाल ने इस योजना की न तो स्वीकृति दी और ना ही पैसा. अरविंद केजरीवाल को बेहतर रेल सेवा, बेहतर स्वास्थ्य सेवा, बेहतर आवागमन, बेहतर योजनाएं नहीं चाहिए उसमें तो शाहीन बाग ही चाहिए, ऐसे कुशासन को समाप्त करने के लिए दिल्ली को देश की उत्कृष्ट राजधानी बनाने के लिए बेहतर सुविधाएं दिलवाने के लिए मैं भारतीय जनता पार्टी के लिए समर्थन और जनता का जनादेश मांगने आपके बीच में आया हूं. समान नागरिक कानून किसी भी पीड़ित शोषित वंचित को नागरिकता देने के लिए बनाया गया है किसी की नागरिकता छीनने के लिए नहीं इसलिए जो आंदोलन दिल्ली में चलाए जा रहे हैं वह देश की एकता अखंडता के लिए बड़ा खतरा है. आने वाली 8 तारीख को आप लोग यह बात ध्यान रखना कि जो पाकिस्तान चाहता है, वह केजरीवाल चाहते हैं. इसका बड़ा उदाहरण है कि पाकिस्तान सरकार का एक मंत्री अरविंद केजरीवाल के लिए समर्थन मांग रहा है. फैसला जनता को करना है कि दिल्ली में राष्ट्रवाद का शासन हो या देश के टुकड़े टुकड़े करने वाले मंसूबों को सफलता मिलनी चाहिए इसलिए 8 फरवरी को आप सभी का लक्ष्य कमल का फूल होना चाहिए. सभी 70 विधानसभा सीटें जिता अब दिल्ली में कमल खिलाने की जिम्मेदारी भी आप लोगों पर है.

Show more

content-cover-image
Rohini की रैली में Kejriwal पर गरजे Yogi, कही ये बातमुख्य खबरें