content-cover-image

Delhi Chunav: जहां CAA का विरोध मजबूत, वहां मतदान हुआ ज्यादा

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Delhi Chunav: जहां CAA का विरोध मजबूत, वहां मतदान हुआ ज्यादा

दिल्ली विधानसभा चुनाव में शाम 6 बजे तक महज 57 फ़ीसदी वोटिंग हुई. लेकिन नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हिंसा का सामना कर चुके सीलमपुर और माटियामहल विधानसक्षा में सबसे ज्यादा वोटिंग हुई. मुस्तफाबाद के साथ इन दो सीटों पर सबसे ज्यादा वोटर टर्नआउट देखा गया. वहीं ओखला विधानसभा में 50.05 फीसदी वोटिंग हुई. बता दें शाहीन बाग ओखला विधानसभा में ही आता है. बीजेपी ने शाहीन बाग को इस चुनाव में मुद्दा बनाया था. इलेक्शन कमीशन के डेटा के मुताबिक, उत्तरपूर्व दिल्ली में पड़ने वाली मुस्तफाबाद विधानसभा में रिकॉर्ड स्तर पर शाम पांच बजे तक 66.29 प्रतिशत मतदान हुआ. 2015 में यहां से बीजेपी चुनाव जीती थी. उस चुनाव में बीजेपी को सिर्फ तीन सीटें ही हासिल हुई थीं. एक और अल्पसंख्यक बहुल सीट सीलमपुर के इलाके में 17 दिसंबर को हिंसा और आगजनी हुई थी. यहां 64.92 फीसदी वोटिंग हुई. 17 दिंसबर को करीब दो हजार लोगों की भीड़ न्यू सीलमपुर चौक पर इकट्ठी हुई थी. यह लोग नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे थे. शनिवार को शाहीन बाग में कुछ मतदाताओं ने सूची से अपना नाम हटाए जाने की भी शिकायत की. शाहीन बाग की महिला प्रदर्शनकारियों ने बैच में जाकर वोट दिए, ताकि उनका प्रदर्शन प्रभावित न हो पाए.

Show more
content-cover-image
Delhi Chunav: जहां CAA का विरोध मजबूत, वहां मतदान हुआ ज्यादामुख्य खबरें