content-cover-image

मेट्रो उद्घाटन को लेकर निमंत्रण की राजनीति, Mamata का नाम गायब

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

मेट्रो उद्घाटन को लेकर निमंत्रण की राजनीति, Mamata का नाम गायब

कोलकाता के लोगों को आज लंबे इंतजार के बाद ईस्ट-वेस्ट मेट्रो प्रोजेक्ट की सौगात मिलने जा रही है. रेल मंत्री पीयूष गोयल आज शाम इसे हरी झंडी दिखाएंगे यह प्रोजेक्ट करीब 16 किलोमीटर लंबा है जो सॉल्ट लेक स्टेडियम से हावड़ा मैदान तक फैला है. पहला फेज सॉल्ट लेक सेक्टर-5 से सॉल्ट लेक स्टेडियम​ के बीच 5.5 किमी लंबा है इस लाइन पर करुणामयी, सेंट्रल पार्क, सिटी सेंटर और बंगाल केमिकल मेट्रो स्टेशन मौजूद हैं. अंडरग्राउंड मेट्रो का दूसरा फेज 11 किलोमीटर लंबा है. हालांकि ईस्ट-वेस्ट मेट्रो प्रोजेक्ट के पूरे रूट पर तो नहीं लेकिन साल्टलेक सेक्टर 5 से लेकर सॉल्टलेक स्टेडियम तक मेट्रो सेवा की शुरुआत आज होने जा रही है. मेट्रो को हरी झंडी दिखाने से पहले ही इस पर विवाद खड़ा हो गया. विवाद इस बात को लेकर है कि उद्घाटन कार्ड पर पश्चिम बंगाल की मुख्य मंत्री ममता बनर्जी का नाम नहीं है. कार्ड पर नाम ना होने की वजह से टीएमसी के सभी बड़े नेताओं के साथ ममता बनर्जी भी इस बात से नाराज हैं. टीएमसी नेता सौगत राय का कहना है कि वो इससे अपमानित महसूस कर रहे हैं और न्योता मिलने के बाद भी हम नहीं जाएंगे. भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि जब कोई कार्यक्रम होता है तो ममता किसे बुलाती हैं जो हम उन्हें बुलाए. यह कल्चर हमने ममता से ही सीखा है. उन्होंने हमारे 18 सांसदों में से किसी को नहीं बुलाया तो हम क्यों बुलाए. दिलीप घोष ने अपनी अभिनंदन यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि तृणमूल पार्टी का जनाधार खिसक रहा है. इसलिए भाजपा से मुकाबला करने और जनता को डराने के लिए वह पूर्व नक्सलियों को पार्टी में शामिल कर रही हैं.

Show more
content-cover-image
मेट्रो उद्घाटन को लेकर निमंत्रण की राजनीति, Mamata का नाम गायबमुख्य खबरें