content-cover-image

Sadhna Ramchandra अचानक पहुंची Shaheen Bagh

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Sadhna Ramchandra अचानक पहुंची Shaheen Bagh

नागरिकता संशोधन कानून और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर पर शाहीन बाग में पिछले 70 दिनों से विरोध प्रदर्शन देखने को मिल रहा है जिसे सुलझाने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने वार्ताकारों की नियुक्ति की है। तीन दिन की बातचीत बेनतीजा निकलने के बाद अब चौथे दिन वार्ताकार साधना रामचंद्रन शाहीन बाग में पहुंचीं और प्रदर्शनकारी महिलाओं से बातचीत कीं। खास बात है कि रामचंद्रन शनिवार को अकेले पहुंची, उनके साथ संजय हेगड़े मौजूद नहीं थे। पहले ऐसी खबरें थी कि दोनों वार्ताकार आज शाहीन बाग नहीं जाएंगी लेकिन साधना रामचंद्रन आज अचानक शाहीन बाग पहुंच गईं। कल शाहीन बाग के लोगों से तीसरे दौर की बातचीत भी फेल हो गई थी। शाहीन बाग में तीसरे दिन वार्ताकार और प्रदर्शनकारियों की बातचीत में सुरक्षा का मुद्दा अहम रहा है और जब सुरक्षा को लेकर बात रखी गई तो प्रदर्शनकारियों ने कहा कि दिल्ली पुलिस लिखित में आश्वासन दे। इसके बाद एक प्रदर्शनकारी ने कहा कि जब पुलिस ने सड़क ही आगे से बंद कर रखी है तो हमने इसे फिर अपनी सुरक्षा की वजह से बंद कर दी। वार्ताकार साधना ने अपनी बात तो आगे बढ़ाते हुए कहा कि अगर पुलिस के द्वारा बंद रास्ते खुल जाएंगे तो क्या रास्ते की दिक्कतें खत्म हो जाएगी? तो प्रदर्शनकारियों की तरफ से कहा गया कि पुलिस द्वारा बंद रास्ते खुलते हैं तो रास्ते का समाधान निकल जाएगा। शाहीनबाग में प्रदर्शनकारियों से वातार्कार रामचंद्रन ने सवाल पूछते हुए कहा कि क्या आप मानते हैं कि हम सब नागरिक हैं और क्या आप मानते हैं कि संविधान में हम सबका हक है तो फिर हल भी हम सबको मिलकर निकालना चाहिए। उन्होंने आगे सवाल करते हुए पूछा कि क्या यह रास्ता खुलना नहीं चाहिए? आपकी आवाज भी बुलंद और बरकरार रहनी चाहिए। एक छोटा सा हल हमें निकालना है कि रोड भी खुल जाए जिससे लोग रोड इस्तमाल कर सकें।

Show more
content-cover-image
Sadhna Ramchandra अचानक पहुंची Shaheen Baghमुख्य खबरें