content-cover-image

दिल्ली हिंसा फ़ैलते हुए पहुंची Meghalaya, दो की मौत, कई जिलों में इंटरनेट बंद

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

दिल्ली हिंसा फ़ैलते हुए पहुंची Meghalaya, दो की मौत, कई जिलों में इंटरनेट बंद

दिल्ली की हिंसा के बाद अब देश के एक और हिस्से में हिंसा भड़क गई है. मेघालय में. यहां भी हिंसा की वजह सिटिजनशिप अमेंडमेंट एक्ट यानी CAA ही है. दो धड़ों के बीच विवाद हुआ. एक CAA के पक्ष में, दूसरा विरोध में. देखते-देखते विरोध हिंसक हो गया. सबसे पहले 28 और 29 फरवरी को शिलॉन्ग के कई हिस्सों खासकर लांगसिंग में हिंसा हुई. यहां के सबसे पुराने बाज़ार- बड़ा बाज़ार में सबसे ज्यादा बवाल हुआ है. इच्छामती और ईस्ट खासी में भी हिंसा हुई. अब तक दो लोगों की मौत हो चुकी है. दस से ज्यादा घायल हैं. माहौल इतना खराब हुआ कि सरकार ने कुछ घंटों के लिए शिलॉन्ग और आस-पास के कुछ इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया था . सुरक्षा के लिहाज़ से सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्स की कंपनियां भी मेघालय पहुंची। मेघालय की पूरी हिंसा में दो नाम बार-बार आ रहे हैं. खासी स्टूडेंट यूनियन (KSU) और नॉन-ट्राइबल. खासी एक्टिविस्ट CAA का विरोध कर रहे हैं. नॉन-ट्राइबल इसके समर्थन में हैं. इसी बात पर दोनों के बीच हिंसक विवाद हो गया. खासी की ओर से दर्ज कराई गई FIR के आधार पर अब तक आठ लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. ईस्ट और वेस्ट जैनतिया हिल्स, ईस्ट और वेस्ट खासी हिल्स, शिलॉन्ग के आस-पास के इलाकों में मोबाइल इंटरनेट बंद कर दिया गया है. पाबंदी हटने तक यहां के लोग टेस्क्ट मैसेज भी दिन में पांच से ज्यादा नहीं कर पाएंगे. मुख्यमंत्री के संगमा ने हिंसा में मरने वालों के परिवार को दो लाख रुपए की मदद का ऐलान किया है.

Show more
content-cover-image
दिल्ली हिंसा फ़ैलते हुए पहुंची Meghalaya, दो की मौत, कई जिलों में इंटरनेट बंदमुख्य खबरें