content-cover-image

लोकसभा में धक्का-मुक्की, संसद महिला सांसदों के लिए सुरक्षित नहीं ?

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

लोकसभा में धक्का-मुक्की, संसद महिला सांसदों के लिए सुरक्षित नहीं ?

भाजपा और कांग्रेस के सांसद सोमवार को लोकसभा में आपस में भिड़ गए। दोनों की ओर से एक-दूसरे पर धक्का-मुक्की के आरोप लगाए। कांग्रेस सांसद राम्या हरिदास ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को पत्र लिखकर आरोप लगाया कि भाजपा सांसद जसकौर मीणा ने उनके साथ मारपीट की कोशिश की। कांग्रेस सांसद राम्या हरिदास ने आरोप लगाते हुए कहा, 'मैं एक दलित महिला हूं। आज जब संसद का सत्र दोपहर 3 बजे शुरू हुआ, तो मैं दिल्ली हिंसा का मुद्दा उठाने के लिए वेल की ओर बढ़ रही थी। उस समय भाजपा सांसद ने मेरे कंधे पर मारा। संसद महिला सांसदों के लिए सुरक्षित नहीं है।' इसके जवाब में भाजपा सांसद मीणा ने भी राम्या हरिदास पर आरोप लगाए। उन्होंने आरोपों को झूठा बताते हुए कहा, 'जैसे ही उन्होंने लोकसभा में बैनर खोला, वह मेरे सिर में बहुत तेजी से लगा। मैंने उनसे आगे बढ़ने को कहा। मगर मैंने उन्हें धक्का या मारने की कोशिश नहीं की। अगर वह कहती हैं कि मैंने 'दलित' शब्द का प्रयोग किया है, तो बता दूँ मैं भी एक दलित महिला हूं।' केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने इस मुद्दे पर हैरानी जताई है। उन्होंने कहा, 'तीन बार की सांसद जसकौर मीणा को सदन में धक्का दिया गया। विपक्ष की सांसद (राम्या हरिदास) ने भाजपा के दलित सांसद को भड़काने के लिए धक्का दिया। उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष से कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की अपील की।'

Show more
content-cover-image
लोकसभा में धक्का-मुक्की, संसद महिला सांसदों के लिए सुरक्षित नहीं ?मुख्य खबरें