content-cover-image

B'Day Spl: दुनिया का सबसे बेखौफ क्रिकेटर जिन्हें Sachin मानते हैं आदर्श

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

B'Day Spl: दुनिया का सबसे बेखौफ क्रिकेटर जिन्हें Sachin मानते हैं आदर्श

क्रिकेट में ऐसे कई नाम है, जिनकी बेखौफ बल्लेबाजी की दुनिया दीवानी है. ऐसे कई बल्लेबाज हैं, जो अपनी लय में होने पर गेंदबाजों की धुर्रे बिखेर दिया करते हैं या दिया करते थे. सचिन तेंदुलकर , एडम गिलक्रिस्ट, वीरेंद्र सहवाग, क्रिस गेल, रोहित शर्मा ऐसे ही नाम हैं. लेकिन इन सबसे पहले 1979-80 के दशक में एक ऐसा बल्लेबाज भी हो चुका है, जिसकी दबंगई इन सब क्रिकेटरों से कई गुना अधिक थी. जब यह बल्लेबाज मैदान पर उतरता था, तो गेंदबाजों के पसीने छूटने लगते थे. आज उसी क्रिकेटर का जन्मदिन है. हम बात कर रहे हैं विवियन रिचर्डस की, जो आज 69वां जन्मदिन मना रहे हैं. विवियन रिचर्ड्स ने वेस्टइंडीज के लिए 1974 से 1991 के बीच 308 मैच खेले. इनमें 121 टेस्ट और 187 वनडे मैच शामिल हैं. वनडे क्रिकेट में 90 से अधिक की स्ट्राइक रेट से रन बनाने वाले विव रिचर्ड्स के नाम कई साल तक इस फॉर्मेट का सर्वोच्च स्कोर (189) भी दर्ज था. हालांकि, उनकी इससे भी यादगार पारी 138 रन की है, जो उन्होंने 1979 के विश्व कप फाइनल में खेली थी. विवियन रिचर्ड्स के कुछ किस्से बेहद मशहूर हैं जिसमें से एक भारत-विंडीज मैच का है. इस मैच में सुनील गावस्कर ओपनिंग की बजाय चौथे नंबर पर बैटिंग करने उतरे और उस वक्त भारत का स्कोर दो विकेट के नुकसान पर 0 था. जब गावस्कर क्रीज की ओर बढ़ रहे थे तो रिचर्डस उनके पास गए और बोले, ‘आप कभी भी बैटिंग करने उतरो, भारत का स्कोर तो 0 ही रहेगा.’ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतक लगाने वाले क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर विंडीज के इस धुरंधर बल्लेबाज को अपना आदर्श मानते हैं. सचिन ने कई बार बताया है कि वे दो क्रिकेटरों को अपना आदर्श मानते थे. वे जब डिफेंस करते थे तो सुनील गावस्कर को फॉलो करते थे. इसी तरह जब वे आक्रामक शॉट खेलते थे तो उनके आदर्श विव रिचर्ड्स हो जाते थे.

Show more

content-cover-image
B'Day Spl: दुनिया का सबसे बेखौफ क्रिकेटर जिन्हें Sachin मानते हैं आदर्शमुख्य खबरें