content-cover-image

सनसनी खेज़ ख़ुलासा : Scindia और BJP के बीच “इस्लाम”!

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

सनसनी खेज़ ख़ुलासा : Scindia और BJP के बीच “इस्लाम”!

काफी दिन से सिंधिया कांग्रेस के अला कमान को सन्देश दे रहे थे लेकिन जान बूझ कर या अनजाने में कांग्रेस ने इसे इग्नोर करने का निश्चय किया आखिरकार सिंधिया ने कांग्रेस को अलविदा कह दिया और साथ ले गए 24 विधायक भी ! 15 साल के राजनीतिक वनवास के बाद वापसी कर के, कांग्रेस 15 महीने भी सत्ता न चला सकी ! अब बड़ा सवाल ये है कि कभी कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया और भारतीय जनता पार्टी के बीच आखिर किस नेता ने ‘डील’ कराई? पर्दे के पीछे वह कौन था, जिसने भाजपा आलाकमान तक ज्योतिरदित्य सिंधिया की बात पहुंचाई? आखिरकार वह कौन है, जिस पर पार्टी हाईकमान इतना भरोसा करती है, जिसके भरोसे मध्यप्रदेश में भाजपा ने ‘ऑपरेशन लोटस’ चलाया? तो आप को बता दे ये है भाजपा प्रवक्ता जफर इस्लाम, जी हाँ ये है बीजेपी और सिंधिया के बीच का इस्लाम कनेक्शन, आइये आप को बताते है कौन है जफ़र इस्लाम राजनीति में आने से पहले जफर इस्लाम एक विदेशी बैंक के लिए काम करते थे और लाखों रुपये का वेतन पाते थे। मोदी की राजनीति से प्रभावित होकर जफर इस्लाम ने भाजपा से अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत की। माना जाता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जफर इस्लाम के अच्छे ताल्लुकात हैं। शायद यही वजह है कि मृदुभाषी और बेहद शालीन व्यक्तित्व के धनी जफर इस्लाम को भाजपा हाईकमान ने इतना बड़ा ऑपरेशन चलाने की जिम्मेदारी दी।जफर कांग्रेस के बागी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को पहले से जानते रहे हैं। सिंधिया जब कभी दिल्ली में रहते थे, तो उनसे जफर की मुलाकात अक्सर हो जाया करती थी। लेकिन जफर पिछले पांच माह से ज्योतिरदित्य को भाजपा में लाने के सिलसिले में उनसे मिल रहे थे। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, हाल ही के समय में ज्योतिरदित्य और जफर की लगातार पांच बैठकें हुई थीं। खुद ज्योतिरदित्य सिंधिया ने अपनी तरफ से पेशकश की थी। इस पेशकश को जफर इस्लाम ने ही पार्टी आलाकमान तक पहुंचाया। इसके बाद ज्योतिरादित्य को भाजपा में लाने की कवायद और मध्यप्रदेश में ‘ऑपरेशन लोटस’ की पटकथा लिखी गई।

Show more

content-cover-image
सनसनी खेज़ ख़ुलासा : Scindia और BJP के बीच “इस्लाम”!मुख्य खबरें