content-cover-image

Nirbhaya Case: दोषी पवन ने एकमात्र गवाह की विश्वसनीयता को दी चुनौती

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Nirbhaya Case: दोषी पवन ने एकमात्र गवाह की विश्वसनीयता को दी चुनौती

निर्भया केस के दोषी पवन गुप्ता ने 20 मार्च को होने वाली फांसी से बचने के लिए एक नया पैंतरा आजमाया है। अब वह निचली अदालत के एक फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंचा है। पवन ने निर्भया केस के एकमात्र गवाह और निर्भया के दोस्त अवनींद्र की गवाही की विश्वसनीयता पर सवाल उठाया है। पवन का कहना है गवाह को बयान देने के लिए सिखाया पढ़ाया गया था और यही वजह है कि उसका बयान विश्वसनीय नहीं है। बता दें कि निर्भया के दोस्त अवनींद्र की गवाही को पवन ने निचली अदालत में भी चुनौती दी थी, जहां उसकी याचिका खारिज कर दी गई थी। जिसके बाद अब पवन ने हाईकोर्ट में याचिका डाली है। निर्भया के दोषी पवन गुप्ता ने अपने सारे कानूनी विकल्प समाप्त होने के बाद भी फांसी को टलवाने के लिए अदालत का रुख किया है। इस बार उसने मंडोली जेल के दो पुलिस कर्मियों पर उससे मारपीट करने का आरोप लगाया है। कोर्ट में शिकायत दायर कर उसने कहा कि मारपीट से उसके सिर में गंभीर चोट लगी है। लिहाजा आरोपी पुलिस वालों पर एफआईआर करने का निर्देश पुलिस को दिया जाए। बता दें की निर्भया के चारों दोषियों पवन, अक्षय, विनय और अक्षय को 20 मार्च की सुबह साढ़े 5 बजे फांसी दी जानी है।

Show more
content-cover-image
Nirbhaya Case: दोषी पवन ने एकमात्र गवाह की विश्वसनीयता को दी चुनौतीमुख्य खबरें