content-cover-image

आज की मुस्कान: छोटी उम्र बड़े सपने, लेकिन आधे भी नहीं अपने (13 मार्च 2020)

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

आज की मुस्कान: छोटी उम्र बड़े सपने, लेकिन आधे भी नहीं अपने (13 मार्च 2020)

Good Morning Listeners!! Welcome to our show Aaj ki Muskaan jisey ham layenge aapke liye roz subah 6 baje!! aaj sunte hain kahani ek bahut hi bahadur ladki ki.. “जितने बड़े सपने होंगे, उतनी ही ज्यादा चुनौतियाँ होंगी। जितना ज्यादा संघर्ष होगा, उतनी ही बड़ी मंजिल होगी, इसलिए बस एक कदम बढ़ाकर देखें।” ye shabd hain हरियाणा के दौलतपुर गाँव की रहने वाली 17 वर्षीय, 12वीं कक्षा में padh rahi अंजू वर्मा ke, jinhone अब तक 700 बच्चों को सरकारी स्कूलों में दाखिल कराया है, लगभग 50 बाल विवाहों को रोका है और 15 शारीरिक शोषण के मामलों को भी संभाला है। इसके साथ उन्होंने एक कन्या भ्रूण हत्या के मामले को भी बहुत समझदारी से सुलझाया। उनका उद्देश्य unhi ke shabdon mein, “मैं ऐसा भारत चाहती हूँ जो कि बच्चों के लिए पूरी तरह से सुरक्षित हो। जहाँ न तो बाल मजदूरी ho, na बाल विवाह हो, न भ्रूण हत्या और न ही बच्चों के साथ किसी तरह का क्राइम।” अंजू के इस संघर्ष की शुरुआत मात्र 10 साल की उम्र से हुई थी। उनके अपने साथ हुई एक घटना ने उनके मन में बगावत के बीज बोए और फिर लगातार अपने छोटे-छोटे प्रयासों से 5 सालों तक लोगों की मदद करने के बाद, साल 2017 में उन्होंने अपने संगठन, ‘बुलंद उड़ान’ की नींव रखी। पहले उनकी पहल सिर्फ हरियाणा तक थी लेकिन अब पंजाब और राजस्थान में भी उन्होंने अपनी पहुँच बनाना शुरू किया है। अंजू आने वाले समय में यूपीएससी पास करके आईएएस अफसर बनाना चाहती हैं और सिर्फ यही कहती हैं कि अक्सर हम युवा समस्याओं से डर जाते हैं। sach hai doston, sirf ek kadam aage badhana hai.... aur fir ek aur.... aur fir ek aur... asha karte hain ki apne desh ki is bahadur Anju ki kahani se aapke chehre par muskan aur dil mein josh zaroor bhara hoga. intezar kariye kal ka, ham kal fir hazir honge mukhya khabron mein apne show.. aaj ki muskan ke saath, subah theek 6 baje. agar samay mile to hamein zaroor batayega ki aapke chehre par roz muskan bikherne ki hamari ye pehel aapko kaisi lagi? asha karte hain aapka din bahut shubh ho..

Show more
content-cover-image
आज की मुस्कान: छोटी उम्र बड़े सपने, लेकिन आधे भी नहीं अपने (13 मार्च 2020)मुख्य खबरें