content-cover-image

UP में SP के बड़े नेता भाइयों समेत गिरफ्तार, वजह एक वकील और उसकी बहन का मर्डर है

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

UP में SP के बड़े नेता भाइयों समेत गिरफ्तार, वजह एक वकील और उसकी बहन का मर्डर है

उत्तर प्रदेश. यहां विधान परिषद में समाजवादी पार्टी के सदस्य, MLC कमलेश पाठक को उनके दो भाइयों समेत गिरफ्तार किया गया है. औरैया ज़िले की पुलिस ने तीनों को एक वकील और उसकी बहन के मर्डर के मामले में गिरफ्तार किया है. आरोप है कि एक मंदिर में चल रही मीटिंग के दौरान कमलेश पाठक के साथियों ने फायरिंग की थी, जिसमें 37 साल के वकील मंजुल चौबे और उनकी बहन सुधा चौबे को गोली लगी और मौत हो गई. क्या है पूरा मामला? दरअसल, रिपोर्ट के मुताबिक, औरेया के महावीर गंज इलाके में 15 मार्च (रविवार) की दोपहर एक पंचायत मीटिंग चल रही थी. चर्चा का टॉपिक था एक मंदिर. दरअसल, एक दिन पहले ही मंदिर के पुजारी की मौत हो गई थी, इसलिए मंदिर कैसे चलाया जाए इसे लेकर चर्चा हो रही थी. मीटिंग में मंजुल चौबे का परिवार और MLC कमलेश पाठक अपने साथियों समेत मौजूद थे. चर्चा के वक्त दोनों पक्षों के बीच बहस हो गई. देखते ही देखते बहस हाथापाई में बदल गई. कमलेश के साथियों ने गुस्से में फायरिंग कर दी. गोलियां मंजुल और उसकी बहन को जा लगी. दोनों को तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. एडिशनल डायरेक्टर जनरल (कानपुर ज़ोन) जय नारायण सिंह ने बताया कि मर्डर के कनेक्शन में कमलेश और उनके दो भाइयों समेत कुल छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस वारदात के दौरान कुछ पुलिसकर्मी भी मौजूद थे, उनकी भूमिका को लेकर जब जय नारायण सिंह से सवाल किया गया, तब उन्होंने कहा अधिकारियों की भूमिका की भी जांच होगी. हालांकि, सर्किल ऑफिसर (सिटी) सुरेंद्रनाथ यादव का कहना है कि पुलिस कंट्रोल रूम को फायरिंग की जानकारी दोपहर में मिली थी. सुरेंद्रनाथ यादव ने बताया, ‘मंजुल के पिता शिव कुमार चौबे पंचायत मीटिंग में मौजूद थे. उनके और कमलेश पाठक के बीच बहस तेज़ हो गई और नौबत हाथापाई तक पहुंच गई. इस बात की जानकारी मंजुल को पड़ी, तो वो अपनी कार से मंदिर पहुंचा.’ खैर, पुलिस का कहना है कि मामले की जांच हो रही है. आरोपी उनकी गिरफ्त में हैं और मंदिर की सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

Show more

content-cover-image
UP में SP के बड़े नेता भाइयों समेत गिरफ्तार, वजह एक वकील और उसकी बहन का मर्डर हैमुख्य खबरें