content-cover-image

MP सियासी संकट पर कल 'सुप्रीम' फैसला, Kamalnath को बताया गया रणछोड़दास

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

MP सियासी संकट पर कल 'सुप्रीम' फैसला, Kamalnath को बताया गया रणछोड़दास

मध्यप्रदेश में राजनीतिक संकट के बीच सोमवार को पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री कमलनाथ, विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति और मुख्य सचिव के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में याचिका दाखिल की है। वहीं भाजपा ने राज्यपाल लालजी टंडन के सामने सभी विधायकों की परेड कराई और कहा कि कांग्रेस सरकार अल्पमत में हैं। राज्यापल से मुलाकात के बाद शिवराज ने कमलनाथ को रणछोड़दास बताया। उच्चतम न्यायालय मप्र कमलनाथ सरकार को विधानसभा में विश्वास मत हासिल करने का निर्देश देने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान की याचिका पर मंगलवार को सुनवाई के लिए सोमवार को तैयार हो गया। राज्यपाल लालजी टंडन ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को 16 मार्च को सदन में अपना बहुमत साबित करने का निर्देश दिया था। भाजपा नेता शिवराज ने कहा, 'सरकार रणछोड़दास बन गई है। बहुमत होता तो सरकार को शक्ति परीक्षण कराने में दिक्कत क्या थी? लेकिन मुख्यमंत्री बच रहे हैं और समय काट रहे हैं क्योंकि वह जानते हैं कि उनकी सरकार अल्पमत में है। इसलिए राज्यपाल के निर्देश का पालन नहीं किया और सरकार रणछोड़दास बन गई। सत्र स्थगित करके भाग गई। भाजपा के पास बहुमत है और हमने राज्यपाल से अनुरोध किया है कि वह जल्द से जल्द शक्ति परीक्षण कराएं। उन्होंने हमें आश्वासन दिया है कि वह हमारे संवैधानिक अधिकारों की रक्षा करेंगे।'

Show more
content-cover-image
MP सियासी संकट पर कल 'सुप्रीम' फैसला, Kamalnath को बताया गया रणछोड़दासमुख्य खबरें