content-cover-image

गोमूत्र पार्टी से शख्स को आया आइडिया, 500 रुपये किलो बेच रहा गोबर

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

गोमूत्र पार्टी से शख्स को आया आइडिया, 500 रुपये किलो बेच रहा गोबर

घातक कोरोनावायरस से सुरक्षित रहने के लिए 500 रुपये लीटर का भारतीय गाय का मूत्र पिएं और 500 रुपये किलो का गोबर लें, ये कहना है पश्चिम बंगाल की राजधानी से 20 किलोमीटर दूर दनकनी में सड़क किनारे दुकान लगाकर गौमूत्र और गोबर बेच रहे दूधवाले का. दिल्ली और कोलकाता को जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 19 पर माबुद अली टेबल पर गोबर के पैकेट और जार में गौमूत्र रखकर बेच रहे हैं. अली का कहना है कि उन्हें यह विचार दिल्ली में हिन्दू महासभा की तरफ से आयोजित गौमूत्र पार्टी से मिला है. अपनी टेबल पर उन्होंने एक पोस्टर चिपकाया है, जिस पर लिखा है, "गौमूत्र पीएं और कोरोनावायरस से बचें." अली ने कहा, “मेरे पास दो गायें हैं, एक भारतीय और दूसरी जर्सी गाय. मैं अपना जीवनयापन दूध बेचकर करता हूं. जब मैंने टीवी पर गौमूत्र पार्टी देखी तो मुझे लगा कि मैं भी गौमूत्र और गोबर बेचकर पैसे कमा सकता हूं. अब मैं गाय के हर हिस्से का उपयोग अपने बिजनेस में कर सकता हूं.” हालांकि, अली की दुकान पर जर्सी गाय का गोबर और गौमूत्र 300 रुपये प्रति लीटर और किलो की दर पर मिल रहा है. अली ने कहा, "जर्सी गाय भारतीय गाय की तरह शुद्ध नस्ल नहीं है, इसलिए इसका मूत्र ज्यादा डिमांड में नहीं है." अली ने कहा कि उसे शुरुआती प्रतिक्रिया अच्छी मिली है, और वह अपना यह बिजनेस जारी रखेंगे. इससे पहले हिंदू महासभा ने कोरोनावायरस के लिए गो-मूत्र पार्टी का आयोजन किया था. पहले पोस्टर लगाए कि इस तारीख को पार्टी है फिर कई लोगों ने एक साथ गोमूत्र पिया. तर्क ये था कि इससे कोरोनावायरस से निपटा जा सकता है. चक्रपाणि का कहना था कि गौमूत्र और गोबर के सेवन से कोरोनावायरस खत्म हो सकता है. इसके बाद ही बंगाल के इस शख्स को गोबर और गोमूत्र बेचने का आइडिया आया.

Show more
content-cover-image
गोमूत्र पार्टी से शख्स को आया आइडिया, 500 रुपये किलो बेच रहा गोबरमुख्य खबरें