content-cover-image

कोरोना के बीच IAS अफ़सर ने ऐसा काम किया कि लोग उन्हें 'हीरो' कहने लगे

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

कोरोना के बीच IAS अफ़सर ने ऐसा काम किया कि लोग उन्हें 'हीरो' कहने लगे

कोरोना वायरस. सरकार इससे निपटने के इंतज़ाम में लगी हुई है. इससे निपटने के लिए जिन अधिकारियों की ज्यादा ज़रूरत है, उनकी छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं. इस बीच ओडिशा के एक IAS अधिकारी ने वो मिसाल क़ायम की है, जिसके लिए सभी तारीफ़ कर रहे हैं. ओडिशा सरकार की ओर से प्रदेश में कोरोना की रोकथाम के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रमों की निगरानी कर रहे हेल्थ सेक्रेटरी हैं निकुंज धल. ये अपने पिता की मौत के 24 घंटे के भीतर ही फिर से ऑफिस आकर काम करने लगे. आईएएस अधिकारी निकुंज धल को सोशल मीडिया पर रियल हीरो बताया जा रहा है. हाल ही में उनके पिता की असामयिक मौत हुई, लेकिन निकुंज अंतिम संस्कार की प्रक्रिया पूरी करने के 24 घंटे के अंदर अपनी ड्यूटी पर लौट आए. निकुंज धल अभी ओडिशा के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग में सेक्रेटरी पद पर सेवाएं दे रहे हैं. पिता की मौत के दूसरे ही दिन उन्होंने ड्यूटी ज्वॉइन कर ली, ताकि कोरोना वायरस को लेकर लोगों की मदद कर सके. लोग उनकी कर्तव्यनिष्ठा की तारीफ कर रहे हैं. ओडिशा सरकार ने कोरोना के कहर को देखते हुए प्रदेश के सभी संबंधित सरकारी विभागों में अफसरों की छुट्टियां रद्द कर दी हैं. निकुंज न सिर्फ प्रदेश के अस्पतालों से लगातार स्वास्थ्य इंतजामों पर अपडेट ले रहे हैं, बल्कि सभी जगहों पर सुरक्षा और लोगों की जागरूकता के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रमों की मॉनिटरिंग भी कर रहे हैं. ऐसे में निकुंज का तुरंत ड्यूटी पर लौट आना प्रशासन के लिए राहत की ख़बर है. ओडिशा सरकार ने हाल ही में सभी जिलों में धारा 144 लागू करते हुए प्रशासन को पूरी तरह से अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं.

Show more

content-cover-image
कोरोना के बीच IAS अफ़सर ने ऐसा काम किया कि लोग उन्हें 'हीरो' कहने लगेमुख्य खबरें