content-cover-image

Nirbhaya Case: पवन जल्लाद ने तोड़ा दादा-परदादा का रिकॉर्ड

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Nirbhaya Case: पवन जल्लाद ने तोड़ा दादा-परदादा का रिकॉर्ड

तिहाड जेल में बंद निर्भया के चारों दरिंदों को शुक्रवार सुबह 5:30 बजे फांसी दी गई। निर्भया के चारों दरिंदों को फांसी देते ही पवन जल्लाद का सपना पूरा हो गया। तिहाड जेल में पवन को दो दिन से जेल प्रशासन द्वारा ट्रेनिंग दी जा रही थी। पवन जल्लाद का कहना कि यह सपना उसके पिता का था, लेकिन उनको मौका नहीं मिला। उसने अपने दादा कल्लू जल्लाद के साथ फांसी देना सीखा था। फांसी के साथ ही मेरा ही नहीं मेरे दादा और पिता का सपना भी पूरा हो गया। पवन जल्लाद का परिवार पीढ़ी दर पीढ़ी फांसी देता आ रहा है। पवन के अनुसार उनके दादा कल्लू और परदादा लक्ष्मण राम फांसी देते थे। कुख्यात रंगा बिल्ला, पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के हत्यारे सतवंत सिंह व केहर सिंह को कल्लू जल्लाद ने फांसी दी थी। अभी तक पवन के दादा और परदादा ने एक साथ चार लोगों को फांसी नहीं दी थी। जल्लाद पवन ने एकसाथ चार दोषियों को फांसी देकर उनका यह रिकॉर्ड तोड़ दिया।

Show more
content-cover-image
Nirbhaya Case: पवन जल्लाद ने तोड़ा दादा-परदादा का रिकॉर्डमुख्य खबरें