content-cover-image

Lockdown के बीच दिखी एकता की मिसाल, मुस्लिमों ने दिया अर्थी को कन्धा

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Lockdown के बीच दिखी एकता की मिसाल, मुस्लिमों ने दिया अर्थी को कन्धा

कोरोना वायरस से बचने के लिए पूरा देश लॉकडाउन में है. ट्रेन, बस यहां तक कि प्राइवेट गाड़ियों के चलने पर भी बैन है. सिर्फ इमरजेंसी वाली गाड़ियां चल रही हैं. लॉकडाउन की वजह से बुलंदशहर के एक शख्स के अंतिम संस्कार में उनके रिश्तेदार शामिल नहीं हो सके. इसके बाद उनके मुस्लिम पड़ोसियों ने सिर्फ अर्थी को कंधा दिया बल्कि अंतिम क्रियाओं में भी पूरी मदद की . बुलंदशहर के आनंदविहार के रहने वाले रविशंकर को कैंसर था. 28 मार्च को उनकी मौत हो गई. उनके बेटे प्रमोद ने रिश्तेदारों को फोन किया पर कोई अंतिम संस्कार में आ नहीं पाया. इसके बाद उनके मुस्लिम पड़ोसियों ने जो किया उसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.वीडियो में स्कल कैप पहने लोग शवयात्रा निकाल रहे हैं. राम नाम सत्य है बोल रहे हैं. मीडिया से बातचीत में रविशंकर के बेटे ने बताया, हमारे मुस्लिम पड़ोसियों ने अंतिम संस्कार में हमारी मदद की. हम चार भाई बहन हैं. दो बहनों की शादी हो चुकी है. हम दो लोग ही हैं परिवार में. रिश्तेदार पहुंच नहीं पाए थे तो इन्होंने हमारी मदद की तो वहीं पड़ोसी मुहम्मद ज़ुबैर ने बताया, रविशंकर का परिवार काफी लंबे समय से हमारा पड़ोसी रहा है. उनकी मृत्यु के बाद जब काफी देर तक कोई रिश्तेदार वगैरह नहीं आए तो हमने उनकी मदद का फैसला किया

Show more
content-cover-image
Lockdown के बीच दिखी एकता की मिसाल, मुस्लिमों ने दिया अर्थी को कन्धा मुख्य खबरें