content-cover-image

तबलीगी जमात के 24 लोगों को कोरोना, 860 लोग अस्पताल में

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

तबलीगी जमात के 24 लोगों को कोरोना, 860 लोग अस्पताल में

दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के मरकज में कोरोना का मामला सामने आने के बाद हड़कंप मच गया है. लोगों को अस्पतालों और क्वारंटीन सेंटरों में शिफ्ट किया जा रहा है. बसों से की गई कम से कम 34 यात्राओं में लगभग 1034 लोग-334 को अस्पतालों और 700 को क्वारंटीन सेंटरों में शिफ्ट किया गया. अब तक 24 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है. जानकारी के मुताबिक निजामुद्दीन मरकज से आज तड़के 860 लोगों को निकालकर अलग-अलग अस्पतालों में पहुंचाया गया है. कुल मिलाकर इस मरकज में लगभग 1400 सौ लोग ठहरे हुए थे, सभी को इस मरकज से निकाल दिया गया है, ये सभी लोग एक धार्मिक समारोह में भाग लेने यहां आए हुए थे. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने नाराजगी जताते हुए कहा कि जो आयोजक हैं उन्होंने बहुत ही घोर अपराध किया है, पूरे देश और दिल्ली के अंदर आपदा और महामारी रोग एक्ट लागू था. उन्होंने खुद एलजी को इनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने के लिए पत्र लिखा है. दिल्ली सरकार ने इन लोगों पर FIR दर्ज करने का निर्देश दिया है. दिल्ली आने से पहले ये ग्रुप 27 फरवरी से 1 मार्च के बीच मलेशिया गया था, जहा यहां ये लोग एक धार्मिक जलसे में शामिल हुए थे. जमात के कई लोगों के कोरोना से पीड़ित होने के मामले सामने आ चुके हैं. पुलिस और मेडिकल की टीम भी सोमवार को फौरन मौके पर पहुंची, सोमवार देर रात तक मरकज को खाली कराने का सिलसिला चलता रहा. इस लापरवाही को लेकर तब्लीगी जमात के सेंटर के मौलाना के खिलाफ केजरीवाल सरकार ने एफआईआर दर्ज कराने का फैसला किया है. हालांकि, मरकज की तरफ से मौलाना यूसुफ ने सफाई दी है कि लॉकडाउन लागू होने से पहले ही वहां पर देशी विदेशी गेस्ट ठहरे हुए थे. लिहाजा उन्होंने सरकार के आदेश का पालन किया कि जो जहां है वहीं ठहरे.

Show more
content-cover-image
तबलीगी जमात के 24 लोगों को कोरोना, 860 लोग अस्पताल मेंमुख्य खबरें