content-cover-image

Coronavirus: जनता को अपना शिकार बना सकते हैं साइबर अपराधी !

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Coronavirus: जनता को अपना शिकार बना सकते हैं साइबर अपराधी !

कोरोना वायरस ने देशभर में हड़कंप मचा रखा है. CBI ने देशभर के पुलिस प्रमुख को चिट्ठी लिखकर साइबर क्राइम के बारे में सचेत रहने के लिए कहा है. दरअसल ये चिट्ठी CBI ने इंटरपोल की चेतावनी के बाद जारी की है. इंटरपोल ने सभी सदस्य 194 देशों को चिट्ठी लिखकर अपराधियों के साइबर हमले से सावधान रहने के लिए कहा है. भारत में CBI इंटरपोल की नोडल एजेंसी है, इसलिए इंटरपोल ने CBI के जरिए भारत की पुलिस को साइबर हमले से सचेत रहने के लिए कहा है. इंटरपोल ने जानकारी दी है कि जिस तरह से देश में Covid-19 फैला हुआ है और इसकी रोकथाम के लिए सरकारें, हेल्थ डिपार्टमेंट और पुलिस लगी हुई है, कई देशों में लॉकडाउन भी घोषित किया जा चुका है. ऐसे में अपराधियों ने अपराध करने के नए-नए तरीके ढूंढ निकाले हैं. इंटरपोल ने जो चेतावनी जारी की है उसके मुताबिक अपराधी अब फर्जी वेबसाइट, डोमेन, मालवेयर के जरिए अस्पताल के सिस्टम को हैक कर सकते हैं और फिर फिरौती देने के बाद ही सिस्टम को रिलीज करेंगे क्योंकि अस्पताल में मरीजों से जुड़ी अहम फाइल हो सकती है या मशीन को कंप्यूटर के जरिए चलाया जाता है तो दिक्कत आ सकती है. इसी के जरिए साइबर अपराधी लोगों को लूट सकते हैं. हेल्थ डिपार्टमेंट से जुड़े लोगों को नकली PPE- Personal Protective Equipment बेच सकते हैं. जरूरी दवाइयों के नाम पर धोखाधड़ी कर सकते हैं. इस मौके का फायदा उठाकर ड्रग्स तस्करी कर सकते हैं. लोन देने के नाम पर या सस्ती EMI के नाम से धोखाधड़ी कर सकते हैं. ये सब तो वो तरीके हैं जो इस समय अपराधी दुनिया में फैली महामारी का फायदा उठाकर लोगों को ठग सकते हैं. लेकिन इसके अलावा भी इंटरपोल ने बताया है कि अपराधियों का अपराध करने का तरीका भी बदल रहा है.

Show more

content-cover-image
Coronavirus: जनता को अपना शिकार बना सकते हैं साइबर अपराधी !मुख्य खबरें