content-cover-image

मंत्री समूह ने दिया निर्देश, डॉक्टरों के परामर्श पर ही दी जाए HcQ दवा

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

मंत्री समूह ने दिया निर्देश, डॉक्टरों के परामर्श पर ही दी जाए HcQ दवा

कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए किए जा रहे उपायों की समीक्षा के लिए आहूत जीओएम की बैठक में स्पष्ट निर्देश दिया गया कि हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन का इस्तेमाल सिर्फ चिकित्सकीय परामर्श पर ही हो। मंत्रालय द्वारा जारी बयान के अनुसार जीओएम ने हृदय रोगों से पीड़ित मरीजों के लिए यह दवा नुकसानदायक साबित होने के खतरों को सार्वजनिक तौर पर अवगत कराने का भी निर्देश दिया है। उल्लेखनीय है कि भारत में मलेरिया सहित अन्य वायरल जनित बुखार में इस्तेमाल होने वाली इस दवा के प्रयोग को कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सीमित कर दिया गया है। कोरोना के इलाज में हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन के कारगर होने के बारे में अब तक पुख्ता वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं होने के कारण स्वास्थ्य मंत्रालय लोगों को ऐहतियात के तौर पर इस दवा का सेवन नहीं करने की लगातार अपील कर रहा है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने भी यह दवा सिर्फ चिकित्साकर्मियों और संक्रमण के संदिग्ध मरीजों को ही देने की अनुशंसा की है। हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की मांग के अनुरूप उपलब्धता को लेकर बैठक में जीओएम ने संतोष व्यक्त किया। स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने जीओएम को देश में इस दवा का पर्याप्त भंडार उपलब्ध होने की जानकारी दी। बैठक में कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों की भी राज्य वार समीक्षा की गई। इसके अलावा संक्रमण को फैलने से रोकने के लिये लागू किए गए लॉकडाउन को प्रभावी बनाने के लिये राज्य और केंद्र सरकार के समन्वय से किए जा रहे उपायों पर जीओएम ने संतोष व्यक्त किया।

Show more
content-cover-image
मंत्री समूह ने दिया निर्देश, डॉक्टरों के परामर्श पर ही दी जाए HcQ दवामुख्य खबरें