content-cover-image

कोरोना लॉकडाउन से हुआ भारतीय अर्थव्यवस्था को बड़ा नुकसान

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

कोरोना लॉकडाउन से हुआ भारतीय अर्थव्यवस्था को बड़ा नुकसान

देश में कोरोना से जंग के लिए लॉकडाउन का पहला चरण आज यानी 14 अप्रैल को खत्म हो रहा है. लेकिन आज पीएम मोदी लॉकडाउन के दूसरे चरण यानी इसे 3 मई तक आगे बढ़ाने की घोषणा कर दी है . वैसे यह लॉकडाउन भारत की इकोनॉमी के लिए बड़ा झटका साबित हो रहा है. पहले चरण के लॉकडाउन से ही इकोनॉमी को करीब 8 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हो चुका है. दुनिया के इस सबसे बड़े लॉकडाउन से देश की इकोनॉमी को 7-8 लाख करोड़ रुपये का झटका लगने का अनुमान है. इस लॉकडाउन के दौरान अधिकतर कंपनियां, उद्योग—धंधे बंद रहे, उड़ान सेवाएं निलंबित रहीं और ट्रेनों के पहिए थमे रहे. वहीं, लोगों और वाहनों की आवाजाही भी बंद रही. इस लॉकडाउन की वजह से भारत की 70 फीसदी आर्थिक गतिविधियां थम गईं. लॉकडाउन के दौरान केवल जरूरी सामान एवं कृषि, खनन, यूटिलिटी सेवाओं और कुछ वित्तीय एवं आइटी सेवाओं को चलाने की ही इजाजत दी गई थी. भारतीय अर्थव्यवस्था पहले से ही सुस्त थी और ऐसे में आई कोरोना महामारी ने इसे बिल्कुल पस्त कर दिया है. इस वजह से तमाम देसी—विदेशी रेटिंग एजेंसियों ने इस वित्त वर्ष में जीडीपी ग्रोथ के अनुमान को घटाकर 1.5 से 2.5 फीसदी के काफी निचले स्तर पर कर दिया है.

Show more
content-cover-image
कोरोना लॉकडाउन से हुआ भारतीय अर्थव्यवस्था को बड़ा नुकसानमुख्य खबरें