content-cover-image

खेती के लिए राहत की बात, इस साल भी सामान्य रहेगा मॉनसून: मौसम विभाग

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

खेती के लिए राहत की बात, इस साल भी सामान्य रहेगा मॉनसून: मौसम विभाग

मौसम विभाग ने जून से सितंबर के दौरान देश में बारिश लाने वाले दक्षिण पश्चिम मॉनसून के इस साल सामान्य रहने का पूर्वानुमान जताया है. मॉनसून के दस्तक देने और इसकी वापसी की तारीखों में बदलाव करते हुये मॉनसून के नये कार्यक्रम का निर्धारण कर दिया है. पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के सचिव एम राजीवन ने बुधवार को संवाददाता सम्मेलन में दक्षिण पश्चिम मॉनसून के पहले अनुमान को जारी करते हुये यह जानकारी दी. डा. राजीवन ने बताया कि पिछले सालों की तरह देश में इस साल भी मॉनसून सामान्य रहने का अनुमान है. उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र के लिये यह स्थिति मददगार साबित होगी. बता दें कि दक्षिण पश्चिम मॉनसून, सामान्य तौर पर एक जून को दक्षिणी इलाकों से देश में दस्तक देता है और 30 सितंबर तक दक्षिण भारत से ही इसकी वापसी हो जाती है. उन्होंने बताया कि मौसम विभाग ने मॉनसून के आने और वापसी से जुड़े, पिछली एक सदी के आंकड़ों के विश्लेषण के आधार पर नया कलेंडर बनाया है. इसमें क्षेत्रीय आधार पर मॉनसून के आने और वापसी की तारीख तय की गयी हैं. इसके मुताबिक दक्षिण पश्चिम मॉनसून के केरल तट पर दस्तक देने की तारीख पहले की तरह एक जून ही निर्धारित की गयी है. इसी प्रकार मॉनसून के पूरी तरह से देश से वापस होने की तारीख 15 अक्टूबर रहेगी. डा. राजीवन ने कहा कि नये कलेंडर में महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, झारखंड, बिहार और उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में मॉनसून के आने की तारीख तीन से सात दिन तक आगे खिसक गयी है.

Show more
content-cover-image
खेती के लिए राहत की बात, इस साल भी सामान्य रहेगा मॉनसून: मौसम विभागमुख्य खबरें