content-cover-image

अब UAE ने मांगी हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की मदद, भारत कर रहा विचार

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

अब UAE ने मांगी हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की मदद, भारत कर रहा विचार

दुनिया इस वक्त कोरोना वायरस महामारी के संकट से जूझ रही है. बड़ी से बड़ी महाशक्ति ने इस वायरस के आगे घुटने टेक दिए हैं. इस महासंकट के बीच भारत दुनिया में एक ऐसा देश बनकर उभरा है, जो हर किसी की मदद कर रहा है. यूनाइटेड अरब अमीरात ने अब भारत ने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन के लिए मदद मांगी है, जिसपर भारत ने उसे हर संभव सहायता का आश्वासन दिया है. मलेरिया के खिलाफ काम आने वाली ये दवाई कोरोना वायरस से जंग में भी कारगर साबित होती दिख रही है. UAE में भारत के एंबेसडर पवन कपूर ने बताया कि UAE की कुछ कंपनियों ने भारत के सामने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की रिक्वेस्ट की है, उन्होंने हमसे इस बात का जिक्र किया, जिसके बाद संदेश को दिल्ली तक पहुंचाया गया है. पवन कपूर के मुताबिक, भारत सरकार इसपर जल्द ही फैसला कर रही है, ऐसे में UAE को जल्द ही इस दवाई की पहली किस्त मिल सकती है. गौरतलब है कि भारत ने बीते दिनों हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवाई की सप्लाई पर लगी रोक हटाई थी और उन देशों को देने का वादा किया था, जहां हालात सबसे अधिक खराब हैं. हालांकि, अभी UAE में उस प्रकार की स्थिति नहीं है लेकिन फिर भी संबंधों को देखते हुए भारत इसपर फैसला ले सकता है. अभी तक भारत ने अमेरिका, जर्मनी, इज़रायल, ब्राजील, नेपाल समेत 13 देशों को ये दवाई दी है. बीते दिने ही मॉरिशस को भी भारत की ओर से भेजी गई इस दवाई की पहली खेप मिली है.

Show more

content-cover-image
अब UAE ने मांगी हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की मदद, भारत कर रहा विचारमुख्य खबरें