content-cover-image

China की लैब में 'विशेष उद्देश्य' से बनाया गया था Coronavirus?

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

China की लैब में 'विशेष उद्देश्य' से बनाया गया था Coronavirus?

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के पूरी दुनिया में पैर पसारने के बाद से ही इसे फैलाने को लेकर चीन पर सवाल उठ रहे हैं। ऐसे में एक अमेरिकी समाचार चैनल ने दावा किया है कि चीन के वुहान में एक लैब में नोबल कोरोना वायरस को बनाया गया था। इसके पीछे चीन का 'विशेष उद्देश्य' भी था। चैनल की रिपोर्ट के मुताबिक चीन यह बताना चाहता था कि उसके वैज्ञानिक किसी भी प्रकार से अमेरिका के वैज्ञानिकों से पीछे नहीं हैं।  रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन ने कोरोना को बनाकर यह बताने की कोशिश की कि वह ऐसे खतरनाक वायरस बना सकता है और सिर्फ इतना ही नहीं ऐसे वायरस से अमेरिका के मुकाबले कहीं ज्यादा अच्छी तरह से निपट भी सकता है। फॉक्स न्यूज नाम के इस अमेरिकी चैनल ने अपनी रिपोर्ट में यह भी दावा किया है कि कोरोना वायरस को बनाने का यह चीन का अब तक का सबसे महंगा और गोपनीय प्लान था। सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि डॉक्टरों के प्रयासों और इस वायरस के शुरूआत में ही लैब में रोकने से संबंधित दस्तावेजों के अध्ययन से कई और बातें पता चलती हैं। इसमें से एक प्रमुख बात यह है कि वुहान के उस बाजार में चमगादड़ बिकते ही नहीं थे, जहां से कोरोना के फैलने की बात अब तक मानी जाती रही है। कोरोना वायरस के फैलने के बाद चीन ने एक और शातिराना चाल चली। उसने जानबूझकर पशु बाजार से वायरस फैलने की बात कही, ताकि लैब में वायरस बनाए जाने के आरोप दब जाएं। चीन यह भी चाहता था कि इसके जरिए वह अमेरिका और इटली को निशाना बनाए।

Show more
content-cover-image
China की लैब में 'विशेष उद्देश्य' से बनाया गया था Coronavirus? मुख्य खबरें