content-cover-image

आज की मुस्कान: प्रवासी श्रमिकों के लिए बना ‘आश्रय स्थल’

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

आज की मुस्कान: प्रवासी श्रमिकों के लिए बना ‘आश्रय स्थल’

सुप्रभात !स्वागत हैं आपका मुख्य ख़बरों में. लॉकडाउन की वजह से देश के अलग-अलग हिस्सों में प्रवासी मजदूर फंसे हुए हैं। इस कठिन घड़ी में छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले में ‘आश्रय स्थल’ बनाया गया है, जहां देश भर के मजदूर परिवार, श्रमिक जो लॉकडाउन की घोषणा के दौरान रायपुर के आस-पास थे, उन्हें यहां आश्रय दिया गया है। यहां लगभग 250 लोग रह रहे हैं। लाभांडी स्थित सरकारी क्वार्टरों में इन प्रवासी श्रमिकों के परिवारों को रखा गया है। रायपुर जिला प्रशासन समर्थ और ‘वी द पीपल’ नाम के गैर सरकारी संगठन के सहयोग से आश्रय स्थल का संचालन कर रही है। यहां श्रमिकों और उनके परिजनों को न केवल दो वक़्त का भोजन, फल, दूध, चाय और रहने की जगह दी जा रही है बल्कि इस संकट के दौर में मानसिक रूप से उन्हें मजबूत रखने के लिए लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। यह आश्रय स्थल रायपुर जिला प्रशासन की एक अभिनव पहल है। एक ओर जहां श्रमिकों की हज़ारों किलोमीटर पैदल चलने की दर्दनाक तस्वीरें झकझोरती हैं, तो वहीं दूसरी ओर रायपुर जिला प्रशसन द्वारा की जा रही यह पहल सराहनीय है। श्रमिक एकजुट होकर कार्य कर रहे हैं। इस सब के बीच उन्हें बेहतर कल के लिए भी तैयार किया जा रहा है। यह पहल प्रशासनिक कुशलता के साथ साथ मानवीय मूल्यों का भी एक बेहतरीन उदहारण है। जिला प्रशसन एवं एन.जी.ओ के सभी कोरोना हीरोज़ को हमारा सलाम। सुनते रहिये मुख्य खबरें हर सुबह 6 बजे से।

Show more
content-cover-image
आज की मुस्कान: प्रवासी श्रमिकों के लिए बना ‘आश्रय स्थल’मुख्य खबरें