content-cover-image

UP के दंगाइयों को राहत दे गया कोरोना

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

UP के दंगाइयों को राहत दे गया कोरोना

संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ पिछले साल दिसंबर में उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। इस दौरान सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के आरोपियों से 1 करोड़ 41 लाख रुपये की वसूली की प्रक्रिया शुरू की गई थी। लॉकडाउन के कारण फिलहाल इस वसूली को रोक दिया गया है। लखनऊ के डीएम अभिषेक प्रकाश ने बताया कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद आरोपियों के खिलाफ निश्चित रूप से कार्रवाई होगी। उन्होंने बताया कि नुकसान की भरपाई अप्रैल के पहले हफ्ते तक होनी थी। उसके बाद कुर्की की कार्रवाई की जानी थी। जिला प्रशासन ने लखनऊ के हजरतगंज समेत कई स्थानों पर इन प्रदर्शनकारियों की फोटो लगे पोस्टर लगवाए थे। इन पर विवाद उठने के बाद इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने राज्य सरकार को पोस्टर हटाने के निर्देश दिए थे। राज्य सरकार उच्च न्यायालय के इस फैसले के खिलाफ उच्चतम न्यायालय गई थी, मगर सर्वोच्च न्यायालय ने भी तोड़फोड़ के आरोपियों की तस्वीर लगे पोस्टर लगाने के सरकार के अधिकार पर सवाल उठाते हुए उच्च न्यायालय के आदेश में हस्तक्षेप से इनकार कर दिया था। हालांकि न्यायालय के आदेश के बावजूद लखनऊ शहर में वो पोस्टर अब भी लगे हुए हैं।

Show more
content-cover-image
UP के दंगाइयों को राहत दे गया कोरोनामुख्य खबरें