content-cover-image

मौलाना साद को चौथा नोटिस, सरकारी लैब में कराएं कोरोना जांच

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

मौलाना साद को चौथा नोटिस, सरकारी लैब में कराएं कोरोना जांच

दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को मौलाना साद को चौथा नोटिस जारी कर सरकारी लैब में कोरोना की जांच कराने के लिए कहा। बता दें कि तब्लीगी जमात के मुखिया मौलाना साद एक प्राइवेट लैब में कोरोना टेस्ट करा चुके हैं, जहां उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी। इस नोटिस में क्राइम ब्रांच ने मौलाना साद से कुछ सवालों के जवाब भी मांगे हैं, जो उन्होंने पुराने नोटिस में नहीं दिया था। देश में कोरोना वायरस के मामलों में अचानक इजाफा करने वाले तब्लीगी जमात के मुखिया मौलाना साद के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने मनी लॉन्ड्रिंग का मामला भी दर्ज किया है। ईडी ने दिल्ली पुलिस की एफआईआर के आधार पर मनी लॉन्ड्रिंग रोकथाम अधिनियम के तहत आपराधिक मामला दर्ज किया है।  दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने 31 मार्च को मौलाना साद समेत सात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। साद ने बड़े जमावड़े पर रोक के आदेश के बावजूद जलसा किया था। जांच में पता चला है कि मरकज से लोग जमात के लिए टुकड़ियों में जाते थे। ये जहां जाते, वहां मजिस्दों में रहते और लोगों के घर खाना खाते थे। इस कारण प्रचार करने गए लोगों का खर्चा कम आता था। यह भी देखा जा रहा है कि धर्म के नाम पर आयकर विभाग से छूट ली जाती थी या नहीं। अपराध शाखा के अधिकारियों के अनुसार, जांच टीम के सिपाही के कोरोना संक्रमित होने के बाद जिन पुलिस अधिकारियों को सेल्फ क्वारंटीन रहने को कहा गया है, उनमें सीनियर अफसर भी हैं। ऐसे में मरकज मामले की जांच धीमी होने की आशंका है।

Show more
content-cover-image
मौलाना साद को चौथा नोटिस, सरकारी लैब में कराएं कोरोना जांचमुख्य खबरें