content-cover-image

Pakistan की नज़र Aarogya Setu एप पर !

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Pakistan की नज़र Aarogya Setu एप पर !

पाकिस्तान की हरकतें उस समय भी लगातार जारी हैं जब पूरी दुनिया कोरोना महामारी से लड़ने में व्यस्त है. आतंकवाद और सीमापार से गोलीबारी के बाद अब पाकिस्तान की जासूसी एजेंसियां कोरोना पर नज़र रखने के लिए बनाए गए आरोग्य सेतु एप को अपना हथियार बनाने की कोशिश में हैं. यहां तक कि सेना के अपने कर्मचारियों को एडवाइज़री जारी कर इससे सावधान करना पड़ा. सेना ने अपने कर्मचारियों को आगाह किया है कि वो आरोग्य सेतु केवल अधिकृत और भरोसेमंद तरीक़े से ही डाउनलोड करें. पिछले कुछ दिनों में कई सैनिकों को पाकिस्तान की एजेंसियों द्वारा भेजे गए लिंक्स के जरिए फंसाने की कोशिश की गई है. सैनिकों को एक लिंक मिलता है जिसके बारे में कहा जाता है कि इस लिंक के ज़रिए आरोग्य सेतु एप डाउनलोड होगा. जब कोई सैनिक इस लिंक पर क्लिक करता है तो उसके मोबाइल पर मेलवेयर एक्टिव हो जाता है. सेना के एक अधिकारी ने कहा कि आरोग्य सेतु से कोई खतरा नहीं है लेकिन अगर किसी लिंक के ज़रिए उसे डाउनलोड करने की कोशिश की गई तो फिशिंग अटैक का ख़तरा रहेगा. पाकिस्तान की तरफ से सोशल मीडिया के ज़रिए कई बार सैनिकों को जाल में फंसाया गया है. अधिकारी ने बताया कि सेना ने समय-समय पर सोशल मीडिया को लेकर एडवाइजरी जारी की है और कड़े दिशा-निर्देश बनाए हैं. आरोग्य सेतु के ज़रिए फिशिंग अटैक का ख़तरा नया है इसलिए ज्यादा जागरूक करने की ज़रूरत है.

Show more
content-cover-image
Pakistan की नज़र Aarogya Setu एप पर !मुख्य खबरें