content-cover-image

Boys & Girls लॉकर रूम मामला: पुलिस जांच में हुआ ये बड़ा खुलासा

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Boys & Girls लॉकर रूम मामला: पुलिस जांच में हुआ ये बड़ा खुलासा

छात्रों के एक इंस्‍टाग्राम ग्रुप की चैटिंग में स्‍कूली छात्राओं के साथ रेप की बात करने संबंधी मामले में दिल्‍ली पुलिस की जांच जारी है. इस मामले में नया खुलासा हुआ है। जांच में पता चला कि नोएडा के एक लड़के ने वह ग्रुप बनाया था। ये लड़का बालिग है और उसने अपने दोस्तों को इस ग्रुप में जोड़ा था। इसी ने दूसरे लड़के को ग्रुप एडमिन भी बनाया। इस बॉयज़ लॉकर रूम मामले में पुलिस ने मंगलवार को साउथ दिल्‍ली के स्कूलों में पढ़ने वाले कई छात्रों से पूछताछ की और उनके फ़ोन भी जब्त किए. बुधवार को भी पूछताछ जारी रहेगी. छात्रों ने पूछताछ के दौरान बताया कि उन्हें ग्रुप में जोड़ा गया था और ग्रुप के बारे में उन्‍हें ज्‍यादा कुछ मालूम नहीं है. जांच में इस बात का भी खुलासा हुआ है कि ग्रुप में कुछ मेम्बर बालिग हैं. उनकी पहचान कर ली गई है. गौरतलब है कि छात्रों के ग्रुप की चैटिंग में स्‍कूली छात्राओं के साथ रेप और सेक्‍स के बारे में बात की जाती थी. इस मामले में दिल्‍ली के एक स्‍कूली छात्र को हिरासत में लिया गया है. गौरतलब है कि 'बायज लॉकर रूम' नाम के ग्रुप का इस मामले में नाम सामने आया था. इस मामले को लेकर लोगों के बीच काफी गुस्‍सा और नाराजगी थी. इस ग्रुप को अब डिएक्‍टिवेट कर दिया गया है. दिल्‍ली के एक मशहूर स्‍कूल के छात्र ने 20 और लोगों के नाम बताए हैं जो इस ग्रुप में एक्टिव थे. माना जा रहा कि दक्षिणी दिल्ली के चार या पांच स्कूलों के कक्षा 11 और 12 के छात्र इस ग्रुप में शामिल थे. रविवार को यह विवादित और हर किसी को हैरान करने वाला मामला सामने आया था जब कई सोशल मीडिया यूजर्स ने 'बॉयज लॉकर रूम' की चैंटिंग के स्‍क्रीनशॉट इंस्‍टाग्राम और ट्विटर पर पोस्‍ट किए थे.ये स्‍क्रीनग्रेब दिल्‍ली के शीर्ष स्‍कूलों के कुछ छात्रों के थे जिसमें कुछ स्‍कूली छात्राओं के फोटोज उनकी सहमति के बिना पोस्‍ट किए गए थे और ऐसे आपत्तिजनक कमेंट्स किए गए थे जिन्‍हें यहां बोला भी नहीं जा सकता. वहीं BoysLockerRoom के बाद से #GirlsLockerRoom तेजी से ट्रेंड करने लगा. इस दौरान कई लोग लड़कियों के ग्रुप में हो रहे पर्सनल व भद्दे चैट्स की स्क्रीनशॉट्स शेयर कर रहे हैं. इस दौरान कई लोगों का कहना है कि बॉयज लॉकर रूम मामले को लेकर जिस तरह की कार्रवाई की जा रही है, कुछ ऐसी ही कार्रवाई लड़कियों के खिलाफ की जानी चाहिए.बता दें कि कई लड़कियों के ग्रुप चैट्स को सार्वजनिक किया गया है. हालांकि हम इस बात की पुष्टि नहीं करते कि शेयर किए गए पोस्ट व तस्वीरों में कितनी सच्चाई है. लेकिन इस पोस्ट में दिखाया गया है कि ये लड़कियां भद्दी बातें करती हैं. साथ ही लड़का या लड़की दोनों को लेकर भद्दी कमेंट पास करने व उनके बारे में अश्लील बातें करने से भी पीछे नहीं हटती हैं. इसी कारण लड़कियों को ग्रुप के खिलाफ भी उचित कार्रवाई की जानी चाहिए.

Show more
content-cover-image
Boys & Girls लॉकर रूम मामला: पुलिस जांच में हुआ ये बड़ा खुलासा मुख्य खबरें