content-cover-image

अमेरिका: चेतावनी के बावजूद अर्थव्यवस्था खोलने पर अड़े ट्रंप

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

अमेरिका: चेतावनी के बावजूद अर्थव्यवस्था खोलने पर अड़े ट्रंप

दुनिया में अब तक कोरोना वायरस से कुल 37,88,005 लोग संक्रमित हो चुके हैं और 2,61,901 जान गंवा चुके हैं। विश्व में सबसे खराब हालात अमेरिका में है। इसके बावजूद राष्ट्रपति ट्रंप अर्थव्यवस्था खोलने पर अड़े हैं। इस बीच उप राष्ट्रपति माइक पेंस ने दिन में कहा कि ट्रंप प्रशासन कोरोना वायरस पर व्हाइट हाउस टास्क फोर्स को खत्म करने की तैयारी कर रहा है। वहीं, रात में राष्ट्रपति ट्रंप इस बात से पलट गए। उन्होंने कहा कि टास्क फोर्स अनिश्चितकाल के लिए काम करती रहेगी। टास्क फोर्स अब अर्थव्यवस्था खोलने पर काम करेगी। हालांकि ट्रंप ने स्वीकार किया है कि अर्थव्यवस्था को फिर से खोलने के कारण और मौतें होंगी। इससे पूर्व एरिजोना में ट्रंप ने कहा था कि टास्क फोर्स ने शानदार काम किया है। जब उनसे पूछा गया कि संक्रमण का सबसे बुरा दौर एक बार फिर शुरू हो सकता है ऐसे में टास्क फोर्स को खत्म करना क्यों जरूरी हुआ? तो ट्रंप ने कहा, ‘क्योंकि हम अगले पांच वर्षों के लिए अपने देश को बंद नहीं रख सकते। प्रशासन ने काफी कुछ सीख लिया है।’ राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने साथ ही कहा कि नोवेल कोरोना वायरस महामारी ने अमेरिका को द्वितीय विश्व युद्ध में पर्ल हार्बर हमले या 9/11 के हमले की तुलना में ज्यादा गहरी चोट पहुंचाई है. ट्रम्प ने व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से कहा कि "यह पर्ल हार्बर से भी बदतर है. यह वर्ल्ड ट्रेड सेंटर से भी बदतर है. और ऐसा कभी नहीं होना चाहिए."

Show more
content-cover-image
अमेरिका: चेतावनी के बावजूद अर्थव्यवस्था खोलने पर अड़े ट्रंप मुख्य खबरें