content-cover-image

गैस लीक के बाद भयानक मंजर,सड़क पर बदहवास दिखे लोग

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

गैस लीक के बाद भयानक मंजर,सड़क पर बदहवास दिखे लोग

आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम के आरआर वेंकटपुरम गांव में एलजी पॉलिमर कंपनी में रसायनिक गैस लीक होने की वजह से अब तक 8 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि 800 से ज्यादा लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बताया जा रहा है कि गैस रिसाव की वजह से तीन किलोमीटर के दायरे तक 5 गांव में 1,000 से ज्यादा लोग बीमार हो गए हैं. हालांकि, रेस्क्यू टीम लगातार राहत का बचाव का काम कर रही है. लेकिन स्थिति काफी भयावह है. सोशल मीडिया पर इस घटना को लेकर लगातार पोस्ट किए जा रहे हैं. लोगों का कहना है कि ये घटना साल 1984 की भोपाल गैस त्रासदी की याद दिला रही है. विशाखापत्तनम की गलियों और अस्पतालों में लोग दहशत में नजर आए. लोगों को यहां सांस लेने में तकलीफ हो रही है. ग्रेटर विशाखापट्टनम नगर निगम के अधिकारियों ने कहा, "कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम के मद्देनजर लागू लॉकडाउन के कारण बंद हुई रासायनिक इकाई को गुरुवार सुबह फिर से शुरू किया गया. कुछ समय बाद टैंकों में संग्रहीत गैस लीक होने लगी और 3 किलोमीटर के दायरे में फैल गई." प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा, "घटना सुबह करीब 2.30 बजे हुई. आसपास के क्षेत्रों में लोग अपने घरों में सो रहे थे. तभी अचानक उन्हें सांस लेने में तकलीफ, भयानक खुजली और आंखों में जलन महसूस होनी शुरू हुई."

Show more
content-cover-image
गैस लीक के बाद भयानक मंजर,सड़क पर बदहवास दिखे लोग मुख्य खबरें