content-cover-image

बिहार सरकार की आशंका हुई सच, ट्रेन से लौटे मज़दूर कोरोना पॉजिटिव

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

बिहार सरकार की आशंका हुई सच, ट्रेन से लौटे मज़दूर कोरोना पॉजिटिव

बिहार सरकार की आशंका सच साबित होती हुई नजर आने लगी हैं. जो प्रवासी मज़दूर वापस ट्रेन से बिहार आ रहे हैं उनमें कई कोरोना संक्रमित यानी पॉजिटिव पाये गये हैं. शुक्रवार को बिहार में जो 29 कोरोना के पॉज़िटिव मरीज़ मिले, उनमें 19 विभिन्न राज्यों से श्रमिक आये थे. इनमें अधिकांश समस्तीपुर ज़िले में हैं जो पश्चिम बंगाल से रोसडा से आये और वहां क्वारंटीन सेंटर में थे. इसके अलावा प्रवासी मजदूर सहरसा और सुपौल जिले में भी संक्रमित पाये गये हैं जो पिछले दिनों लौट के आए हैं. शुक्रवार तक विभिन्न राज्यों में फंसे करीब 83 हजार लोगों को सत्तर ट्रेनों से लाया गया हैं. राज्य में अब तक कुल 579 कोरोना के मरीजों में 267 ठीक हो चुके हैं. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के विश्लेषण के अनुसार सिर्फ छह लोगों से 234 लोग संक्रमित हुए हैं और बाहर के राज्यों से क़रीब डेढ़ सौ लोग इस बीमारी के पॉजिटिव मरीज पाये गये हैं. हालांकि प्रवासी मजदूरों की संख्या के मद्देनजर राज्य सरकार ने हर जिला में जांच केंद्र खोलने के अलावा रैंडम सैम्प्लिंग कर जांच कराने का आदेश दिया हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आदेश पर डोर टू डोर स्क्रीनिंग का काम भी पिछले महीने से जारी हैं, लेकिन इसके डेटा से सम्बंधित दावों को लेकर एक नया विवाद शुरू हो गया हैं.

Show more
content-cover-image
बिहार सरकार की आशंका हुई सच, ट्रेन से लौटे मज़दूर कोरोना पॉजिटिवमुख्य खबरें