content-cover-image

Lucknow: प्लाज्मा थेरेपी से इलाज के बावजूद गई मरीज की जान

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Lucknow: प्लाज्मा थेरेपी से इलाज के बावजूद गई मरीज की जान

उत्तर प्रदेश के लखनऊ स्थित किंग जॉर्ज मेडिकल विश्वविद्यालय (केजीएमयू) में पहली बार कोरोना संक्रमित व्यक्ति का प्लाज्मा पद्धति से इलाज किया गया था, लेकिन शनिवार शाम को दिल का दौरा पड़ने से उसकी मौत हो गई. हालांकि, व्यक्ति की कोरोना संक्रमण की दो रिपोर्ट निगेटिव आई थीं. प्लाज्मा चढ़ाए जाने वाले रोगी चूंकि बहुत पुराने डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर से ग्रस्त रोगी थे, इसलिए उन्हें निरंतर चिकित्सकों की निगरानी में आइसोलेटेड वॉर्ड में रखा गया था. 26 अप्रैल को उत्तर प्रदेश में पहली बार केजीएमयू में किसी कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज का प्लाज्मा पद्धति से इलाज किया गया था. यह संक्रमित उरई के चिकित्सक थे और उनको प्लाज्मा देने वाली महिला भी कनाडा की एक चिकित्सक है, जो पहले कोरोना वायरस से संक्रमित हुई थीं और केजीएमयू में ही भर्ती थीं.

Show more
content-cover-image
Lucknow: प्लाज्मा थेरेपी से इलाज के बावजूद गई मरीज की जानमुख्य खबरें