content-cover-image

AAROGYA सेतु ऐप ने इतने 'उभरते हॉटस्पॉट्स' की दी जानकारी

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

AAROGYA सेतु ऐप ने इतने 'उभरते हॉटस्पॉट्स' की दी जानकारी

कोविड-19 रोगियों को ट्रैक करने के लिए विकसित किए गए सरकार के मोबाइल एप्लिकेशन आरोग्य सेतु ने वायरस के प्रसार को रोकने में बहुत अहम भूमिका निभाई है. इसने देशभर में 650 से अधिक हॉटस्पॉट और 300 से अधिक ऐसे 'उभरते हॉटस्पॉट' के बारे में अधिकारियों को अलर्ट किया है, जिनके छूटने पर भयंकर नुकसान हो सकता था. ये जानकारी नीति अयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने दी. इसी साल 2 अप्रैल को लॉन्च होने के बाद से इस ऐप पर अब तक 96 मिलियन यानि कि करीब 10 करोड़ लोगों ने आरोग्य सेतु ऐप पर स्वास्थ्य देखभाल के आवेदन के साथ रजिस्‍ट्रेशन किया है. इतना ही नहीं यह वैश्विक स्तर पर 50 मिलियन यूजर्स तक सबसे कम समय में पहुंचने वाला सबसे तेज़ मोबाइल ऐप बन गया है और जल्‍द ही 100 मिलियन क्लब में सबसे तेज़ी से पहुंचने वाले ऐप में से एक होगा. आरोग्य-सेतु ने सरकार को अपने दोहरे उद्देश्य में सफलता दिलाई. यानि कि 'किसका परीक्षण करना है' और 'कहां अधिक परीक्षण करना है'. इससे सरकार को कोविड -19 के खिलाफ लड़ाई में खासी मदद मिली है. कांत ने कहा, "उदाहरण के लिए महाराष्ट्र में इंजन ने 18 जिलों में 60 से अधिक हॉटस्पॉट की पहचान की. देशभर में, इंजन ने 13 अप्रैल से 20 अप्रैल के बीच सब-पोस्ट ऑफिस स्तर पर लगभग 130 हॉटस्पॉट की भविष्यवाणी की. बाद में इन पूर्वानुमानित हॉटस्पॉट्स को आरोग्य सेतु द्वारा सतर्क किए जाने के लगभग 3 से 17 दिनों बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा 'वास्तविक हॉटस्पॉट' घोषित किया गया.

Show more
content-cover-image
AAROGYA सेतु ऐप ने इतने 'उभरते हॉटस्पॉट्स' की दी जानकारी मुख्य खबरें