content-cover-image

Aarogya App को लेकर अब पूर्व जज ने उठाये सवाल

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Aarogya App को लेकर अब पूर्व जज ने उठाये सवाल

कोरोना वायरस महामारी के बीच लॉन्च किया गया आरोग्य सेतु ऐप विवाद का केंद्र बन गया है. केंद्र सरकार का कहना है कि ये ऐप लोगों के स्वास्थ्य, सुरक्षा और राष्ट्र के लिये है, जो कोरोना से बचाने में अहम भूमिका निभाएगा. जबकि विपक्षी दल इसे निजता के उल्लंघन से जोड़ रहे हैं. इस कड़ी में अब सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज बीएन श्रीकृष्ण का नाम भी जुड़ गया है. सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज बीएन श्रीकृष्ण ने कोविड-19 के मरीजों को ट्रैक करने में मदद के लिए बनाये गये ट्रेसिंग ऐप आरोग्य सेतु पर सवाल उठाया है. उन्होंने कहा है कि यह ऐप एक प्रकार का पैचवर्क है, जो नागरिकों को फायदा पहुंचाने से ज्यादा उनकी चिंता बढ़ायेगा. पूर्व जज ने ये भी कहा कि यह बेहद आपत्तिजनक है कि आरोग्य सेतु ऐप से जुड़ा आदेश कार्यकारी स्तर पर ही जारी कर दिया गया. जस्टिस श्रीकृष्ण ने डेटा लीक होने को लेकर भी सवाल उठाये. उन्होंने कहा, 'अगर डेटा का उल्लंघन होता है, तो कौन जवाबदेह है? क्या कार्रवाई की जानी चाहिए? डेटा उल्लंघन के लिए कौन जिम्मेदार होगा?' बता दें कि जस्टिस बीएन श्रीकृष्ण उस एक्सपर्ट कमेटी का हिस्सा रहे हैं जिसने पर्सनल डेटा प्रोटेक्शन बिल का मसौदा तैयार किया था. ऐसे में आरोग्य सेतु ऐप को लेकर उनके ये सवाल काफी गंभीर माने जा रहे हैं.

Show more
content-cover-image
Aarogya App को लेकर अब पूर्व जज ने उठाये सवालमुख्य खबरें