content-cover-image

Nirav Modi का प्रत्यर्पण से बचने का पैंतरा या सच में दिमागी हालत ठीक नहीं?

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Nirav Modi का प्रत्यर्पण से बचने का पैंतरा या सच में दिमागी हालत ठीक नहीं?

भगोड़े हीरा कारोबारी की वकील ने प्रत्यर्पण ट्रायल के दूसरे दिन लंदन की कोर्ट से मंगलवार को कहा कि उनके मुवक्किल को मानसिक स्वास्थ्य की समस्या है. वकील क्लेयर मोंटगोमरी ने ये भी कहा कि नीरव मोदी को अगर प्रत्यर्पित किया जाता है और मुंबई की आर्थर रोड जेल में रखा जाता है तो यह उनके मुवक्किल के मानवाधिकारों का उल्लंघन होगा. वकील ने मोदी के खिलाफ सभी आरोपों को निराधार बताया. वकील मोंटगोमरी ने वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट को यह भी बताया कि आर्थर रोड जेल में मानसिक रूप से अस्वस्थ कैदियों के लिए कोई विशेष डॉक्टर नहीं है. प्रत्यर्पण सुनवाई के पहले दिन, भारत की ओर से क्राउन प्रॉसिक्यूशन सर्विस ने अदालत को सूचित किया था कि अगर नीरव मोदी को प्रत्यर्पित किया जाता है, तो मुंबई की आर्थर रोड जेल में बैरक नंबर 12 में रखा जाएगा. सूत्रों ने बताया कि नीरव मोदी के मानसिक स्वास्थ्य मुद्दे को बचाव पक्ष की वकील ने प्रत्यर्पण प्रक्रिया में देरी के लिए उठाया हो सकता है और ये सिर्फ एक बहाना है. नीरव मोदी के प्रत्यर्पण ट्रायल पर पांच दिन की सुनवाई 11 मई को शुरू हुई. नीरव मोदी की वैंड्सवर्थ जेल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेशी कराई जा रही है. इस जेल में नीरव मोदी मार्च 2019 में अपनी गिरफ्तारी के बाद से बंद है.बचाव पक्ष की वकील ने कोर्ट में दावा किया कि नीरव मोदी के खिलाफ लगाए गए आरोप प्रथम दृष्टया सही नहीं हैं.

Show more
content-cover-image
Nirav Modi का प्रत्यर्पण से बचने का पैंतरा या सच में दिमागी हालत ठीक नहीं?मुख्य खबरें