content-cover-image

Vishakhapatnam Gas Leak: FIR में न स्टायरीन गैस का ज़िक्र, न फ़ैक्ट्री के किसी स्टाफ का नाम

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Vishakhapatnam Gas Leak: FIR में न स्टायरीन गैस का ज़िक्र, न फ़ैक्ट्री के किसी स्टाफ का नाम

विशाखापट्नम में 7 मई को LG पॉलीमर्स फ़ैक्ट्री से हुए स्टायरीन गैस रिसाव में 11 लोगों की मौत हुई. मामले की जांच के लिए आंध्र प्रदेश की सरकार ने हाई-लेवल कमिटी बनाई, लेकिन इस केस में जो FIR दर्ज की गई, उसमें लिखा गया, ‘करीब 3:30 बजे (सुबह) LG पॉलीमर्स कंपनी से कोई धुआं निकला, जिससे आस-पास के गांवों के लोगों को दिक्कत हुई, उन्हें खराब गंध आने लगी. ये गंध इंसान की ज़िंदगी के लिए खतरा थी. डर के मारे सारे गांववाले अपने घरों से भागने लगे. इस घटना में पांच लोगों की मौत हो गई और बाकियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया.’ जब ये FIR लिखी गई, उस वक्त तक मरने वालों की संख्या 10 हो चुकी थी, लेकिन केवल पांच का ज़िक्र हुआ. स्टायरीन गैस का भी ज़िक्र नहीं है, जबकी पुलिस अधिकारियों ने भी इस गैस की मौजूदगी को उस वक्त कन्फर्म किया था. कंपनी के किसी स्टाफ का नाम भी नहीं है. FIR में किसी स्टाफ का नाम नहीं है. इस पर जब विशाखापट्नम पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार मीणा से सवाल किया गया, तो उन्होंने कहा कि भले ही नाम नहीं है, लेकिन जांच में पता चल ही जाएगा कि ज़िम्मेदार कौन है. हाई-लेवल कमिटी भी इसकी जांच कर रही है.

Show more
content-cover-image
Vishakhapatnam Gas Leak: FIR में न स्टायरीन गैस का ज़िक्र, न फ़ैक्ट्री के किसी स्टाफ का नाममुख्य खबरें