content-cover-image

World Hypertension Day: हर चार में से एक व्यक्ति को होता है हाइपरटेंशन

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

World Hypertension Day: हर चार में से एक व्यक्ति को होता है हाइपरटेंशन

कोरोना वायरस के संक्रमण के बीच में ऐसी कई स्वास्थ्य समस्याएं हैं जिससे लोगों का ध्यान पूरी तरह से हट गया है लेकिन यह स्वास्थ्य समस्याएं हर साल लाखों लोगों की जान लेती हैं। ऐसी ही एक मेडिकल कंडीशन हाइपरटेंशन है जिसके बारे में सही समय पर अगर ध्यान ना दिया जाए तो यह जानलेवा भी साबित हो सकती है। इतना नहीं हर 4 में से एक व्यक्ति को हाइपरटेंशन की समस्या होती है लेकिन उसे ना तो उसके लक्षण के बारे में पता होता है और ना ही वह इसके प्रति सतर्क रहता है। हाइपरटेंशन या हाई ब्लड प्रेशर एक गंभीर चिकित्सा स्थिति है जो हार्ट अटैक, स्ट्रोक, किडनी फेल और अंधेपन के जोखिम को बढ़ाती है। यह दुनिया भर में समय से पूर्व होने वाली मौत के प्रमुख कारणों में से एक है। WHO के मुताबिक दुनियाभर में 1.13 बिलियन लोगों को हाइपरटेंशन है। हाइपरटेंशन के मुख्य कारण में खराब खान-पान, व्यायाम न करना, शराब और तंबाकू का सेवन करने को माना जाता है। विश्व हाइपरटेंशन दिवस को इसलिए मनाया जाता है ताकि पूरी दुनिया के लोगों को इसके बारे में जागरूक किया जा सके। इस बार विश्व हाइपरटेंशन दिवस पर इसकी थीम मीजर योर बल्ड प्रेशर, कंट्रोल इट और लिव लॉन्गर ( Measure your blood pressure, control it and live longer) है। इसका मतलब यह है कि अपने ब्लड प्रेशर को चेक करिए, इसे कंट्रोल करिए और लंबे समय तक जीवित रहिए।

Show more
content-cover-image
World Hypertension Day: हर चार में से एक व्यक्ति को होता है हाइपरटेंशनमुख्य खबरें