content-cover-image

दद्दा जी के अंतिम संस्कार में टूटे सोशल डिस्टेंसिंग के नियम, हजारों शामिल हुए

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

दद्दा जी के अंतिम संस्कार में टूटे सोशल डिस्टेंसिंग के नियम, हजारों शामिल हुए

मध्य प्रदेश के संत और पंडित देवप्रभाकर शास्त्री का निधन हो गया. 17 मई को. लोगों के बीच वे दद्दाजी के नाम से मशहूर थे. वो लीवर और किडनी की बीमारी से जूझ रहे थे, कई दिनों से वेंटीलेटर पर थे. 18 मई को उनका अंतिम संस्कार किया गया. दद्दाजी को मानने वालों में सीएम शिवराज सिंह चौहान, बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय जैसे नेता और एक्टिर आशुतोष राणा, राजपाल यादव जैसे फिल्म एक्टर शामिल हैं. शिवराज सिंह ने उनके लिए ट्वीट किया, पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने भी शोक जताया. उधर, बात करें आज-कल की स्थिति की तो सरकार ने 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ा दिया है. गृह मंत्रालय की गाइडलाइन के मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान अंतिम संस्कार में 20 से ज्यादा लोगों के ज्यादा इकट्ठा होने की मनाही है। लेकिन , दद्दाजी के अंतिम संस्कार में हजारों लोग शामिल हुए. किसी तरह की कोई सोशल डिस्टेंसिंग नहीं. भीड़ को लेकर किसी नियम-कानून का पालन नहीं. कई बड़े लोग भी शामिल हुए. बीजेपी नेता संजय पाठक, एक्टर आशुतोष राणा, राजपाल यादल ने दद्दाजी की अर्थी को कंधा भी दिया. इनके अलावा अजय विश्नोई, अर्चना चिटनीस, लखन घनघोरिया जैसे नेता भी शामिल थे. अंतिम संस्कार से पहले गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया.

Show more
content-cover-image
दद्दा जी के अंतिम संस्कार में टूटे सोशल डिस्टेंसिंग के नियम, हजारों शामिल हुएमुख्य खबरें