content-cover-image

सेपक टाकरा में मेडल दिलाने वाला युवक बेच रहा चाय

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

सेपक टाकरा में मेडल दिलाने वाला युवक बेच रहा चाय

जकार्ता में खत्म हुए 18वें एशियाई खेल में नये शामिल किये गए खेल सेपक टाकरा में देश को कांस्य पदक दिलाने वाला युवक अपने पिता को मदद करने फिर से उनकी चाय की दुकान पर पहुंच गया है । दिल्ली के मजनूं का टीला इलाके में हरीश कुमार के पिता की चाय की दुकान है। जकार्ता से वापस आने के बाद वो फिर से अपने पिता की चाय की दुकान पर उनकी मदद करने पहुंच गया है। हरीश के परिवार की हालत आमदनी अठन्नी खर्चा रूपया वाली है हरीश्स बताता है कि परिवार के सदस्यों की संख्या ज्यादा है और आमदनी का जरिया सिर्फ चाय की दुकान है । वो दुकान पर दोपहर दो बजे से शाम छह बजे तक रहता है । हरीश अच्छी नौकरी की तलाश में है ताकि परिवार का भरण पोषण अच्छी तरह से हो सके । हरीश ने कहा कि खेलों में उसकी रूचि शुरू से रही । उसके कोच ने 2011 में सेपक टाकरा खेलने को कहा । कोच हेमराज ने उसे टायर के साथ इसे खेलते देखा था और प्रीाावित हो गए थे । हेमराज ही उसे भारतीय खेल प्राधिकरण में शामिल कराया । उसे प्राधिकरण से ही मासिक कुछ रूपए मिलने लगे और किट भी मिली ।

Show more
content-cover-image
सेपक टाकरा में मेडल दिलाने वाला युवक बेच रहा चाय मुख्य खबरें