content-cover-image

रामविलास को मिलने वाली है घर से चुनौती

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

रामविलास को मिलने वाली है घर से चुनौती

लोक जनशक्ति पार्टी के प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के खिलाफ अब उनकी बेटी आशा पासवान ही चुनावी मैदान में उतरेगी। आशा ने राजद के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ने की घोषणा की और आरोप लगाया कि रामविलास पासवान और उनके बेटे चिराग ने अपनी पहली पत्नी के परिवार के सदस्यों की अनदेखी की। मेरे पिता रामविलास पासवान अब दलितों के नहीं सवर्णों के नेता हो गए हैं। उन्होंने सिर्फ अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के लोगों का अपमान किया है। आशा ने पिता रामविलास पर भेदभाव का आरोप लगाते हुए कहा कि, उन्होंने सिर्फ चिराग पासवान को आगे बढ़ाया और उसी का सबसे ज्यादा ख्याल रखा। उन पर या मां पर कभी ध्यान नहीं दिया। पासवान के दामाद अनिल साधु ने भी कहा कि यदि राजद उन्हें और उनकी पत्नी को टिकट देता है, तो वे निश्चित रूप से पासवान परिवार के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे। राम विलास पासवान ने दो शादियां की हैं। उनकी पहली शादी राजकुमारी देवी से तो दूसरी रीना से हुई है । 1981 में रामविलास पासवान अपनी पहली पत्नी से अलग हो गए थे, उन्हें पहली शादी से दो बेटियां ऊषा और आशा हैं। चिराग, राम विलास पासवान की दूसरी पत्‍नी के बेटे हैं। 1983 में रामविलास पासवान ने रीना शर्मा से शादी की जो कि उस समय एयर होस्टेस थीं और पंजाबी हिंदू परिवार से हैं ।

Show more
content-cover-image
रामविलास को मिलने वाली है घर से चुनौती मुख्य खबरें